रियल एस्टेट सेक्टर में उछाल, जुलाई-सितंबर में मकानों की बिक्री 22% बढ़ी

punjabkesari.in Saturday, Dec 02, 2023 - 01:42 PM (IST)

बिजनेस डेस्कः कोरोना काल में सबसे ज्यादा असर रियल एस्टेट सेक्टर पर पड़ा था। रियल एस्टेट सेक्टर ध्वस्त हो गया था। अब देश में रियल एस्टेट सेक्टर ने रफ्तार पकड़ी है। मकानों और प्रॉपर्टी की बिक्री में तेजी आई है। देश के टॉप 8 हाउसिंग बाज़ारों में मजबूत वृद्धि जारी है। जुलाई-सितम्बर 2023 में बिक्री 22% और नई आपूर्ति 17% बढ़ी है। रियल एस्टेट डिजिटल मंच प्रॉपटाइगर डॉट कॉम ने ‘रियल इनसाइट रेजिडेंशियल- जुलाई-सितंबर 2023’ रिपोर्ट जारी की है। बता दें कि प्रॉपटाइगर डॉट कॉम एक प्रमुख डिजिटल रियल एस्टेट ब्रोकरेज कंपनी है, जिसका स्वामित्व आरईए इंडिया के अधीन है। यह हाउसिंग डॉट कॉम और मकान डॉट कॉम की पैरेंट कंपनी भी है। रिपोर्ट के मुताबिक, आवासीय इकाइयों की बिक्री पिछले साल की तीसरी तिमाही के 83,220 यूनिट्स से बढ़कर इस साल की तीसरी तिमाही में 1,01,220 यूनिट्स पर पहुंच गई है।

सभी शहरों में खूब हुई बिक्री

चेन्नई को छोड़कर सभी शहरों में बिक्री में बढ़ोतरी दर्ज हुई और कुल बिक्री में मुम्बई महानगर क्षेत्र (एमएमआर) और पुणे की हिस्सेदारी आधे के करीब है। यह तिमाही रिपोर्ट आठ बड़े हाउसिंग बाज़ारों पर आधारित है, जिनमें दिल्ली-एनसीआर, एमएमआर, चेन्नई, कोलकाता, बेंगलुरु, हैदराबाद, पुणे और अहमदाबाद शामिल हैं। आरईए इंडिया के सीएफओ और प्रॉपटाइगर डॉट कॉम के बिजनेस हेड विकास वधावन के मुताबिक, शीर्ष आठ शहरों में हाउसिंग मार्केट्स में लगातार तेजी आ रही है। यह मजबूत मांग उपभोक्ताओं के सकारात्मक रुझान के कारण है।

खूब बिक रहे मकान

प्रॉपटाइगर डॉट कॉम के डेटा के मुताबिक, अहमदाबाद में घरों की बिक्री की संख्या वार्षिक 31 फीसदी इजाफे के साथ 7,880 से बढ़कर 10,300 पर पहुंच गई है। बेंगलुरु में बिक्री में 60% की अधिकतम वृद्धि दर्ज हुई है। इसके साथ यूनिट्स की संख्या 7,890 से बढ़कर 12,590 हो गई है। दिल्ली-एनसीआर में बिक्री 44% थी। यूनिट्स की संख्या 5,430 से बढ़कर 7,800 पर दर्ज हुई है।

हैदराबाद ने बिक्री में 34% की वृद्धि दर्ज की जहां यूनिट्स की संख्या पिछले 10,570 की तुलना में 14,190 पर पहुंच गई है। कोलकाता में बिक्री में 43% वृद्धि के साथ यूनिट्स की संख्या 2,530 से बढ़कर 3,610 पर दर्ज हुई है। मुंबई में सामान्य 5% की वृद्धि देखी गई। इसमें यूनिट्स की संख्या 28,800 से 30,300 पर पहुंच गई है। बिक्री के मोर्चे पर पुणे में यूनिट्स की संख्या पिछले 15,700 पर 18 फीसदी वृद्धि के साथ 18,560 पर दर्ज हुई है। चेन्नई एकमात्र शहर रहा जहां बिक्री में 12% की गिरावट देखी गई है।


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

jyoti choudhary

Recommended News

Related News