बैंक विलय का विरोध, देशभर के बैंक कर्मचारी आज हड़ताल पर

10/22/2019 9:33:06 AM

बिजनेस डेस्कः देशभर के कई बैंकों में आज कामकाज प्रभावित रहने की आशंका है। दरअसल, दो बैंक यूनियनों ने आज यानि 22 अक्टूबर को 24 घंटे की हड़ताल बुलाई है। कर्मचारी संगठनों की इस घोषणा से त्योहारी सीजन में बैंकिग कामकाज पर असर पड़ने की संभावना है। ऐसे में लोगों को दिक्कतें हो सकती हैं। इसके अलावा दिवाली की छुट्टियों के चलते भी अगले हफ्ते बैंक लगातार चार दिन बंद रहेंगे।
PunjabKesari
SBI ने कहा- नहीं होगा कोई असर
हड़ताल का आह्वान ऑल इंडिया बैंक एंप्लॉयीज एसोसिएशन (एआईबीईए) तथा बैंक एंप्लॉयीज फेडरेशन ऑफ इंडिया (बीईएफआई) ने किया है। हालांकि, अधिकारी और निजी क्षेत्र के बैंक हड़ताल में शामिल नहीं होंगे। बैंकों के प्रस्तावित विलय और जमा पर गिरती ब्याज दरों का विरोध करने के लिए यह हड़ताल होगी। हालांकि भारतीय स्टेट बैंक (एसबीआई) ने बयान जारी करते हुए कहा है कि उनके यहां पर इस हड़ताल का असर देखने को नहीं मिलेगा। एसबीआई ने कहा, ‘इस हड़ताल में शामिल कर्मचारी यूनियन में हमारे बैंक कर्मचारियों की सदस्यता संख्या काफी कम है। ऐसे में हड़ताल से बैंक के कामकाज पर असर काफी सीमित रहेगा।’ बैंक ऑफ बड़ौदा, बैंक ऑफ महाराष्ट्र और सिंडिकेट बैंक जैसे तमाम सरकारी बैंकों में इस हड़ताल का असर देखने को मिलेगा, क्योंकि इन बैंकों में ये दो यूनियन से जुड़े कर्मचारियों की संख्या ज्यादा है।

PunjabKesari
26 अक्टूबर से लगातार 4 दिन बंद रहेंगे बैंक
आपको बता दें कि इस हफ्ते दिवाली का त्योहार है। जिसके कारण 26, 27, 28, 29 अक्टूबर को लगातार चार दिन बैंक की छुट्टी रहने वाली है। ऐसा महीने के चौथे शनिवार और दिवाली की छुट्टियों के चलते होगा। ऐसे में कैश, डिपॉजिट, निकासी संबंधी जरूरतों को ध्यान में रखते हुए इन्हें पहले ही पूरा कर लें तो आपको सहूलियत होगी।
PunjabKesari
कैश किल्लत से हो सकती है परेशानी
बैंकों के बंद रहने से एटीएम से धन निकासी भी प्रभावित हो सकती है। एटीएम में दो दिन के लिए रिजर्व कैश होता है, लेकिन इसके बाद नकद निकासी में परेशानी आ सकती है। इसी तरह, चेक क्लीयर होने में भी समय लग सकता हैं। 


Supreet Kaur

Related News