See More

कोरोना संकट में हुआ बड़ा उलटफेर, टू-व्हीलर की 'बादशाह' हीरो को बजाज ने पछाड़ा

2020-06-04T17:49:29.92

बिजनेस डेस्कः कोरोना संकट के दौरान दोपहिया वाहन कंपनियों की लीड़रशिप में बड़ा उलटफेर हुआ है। देश की सबसे ज्यादा बिकने वाली दोपहिया कंपनी हीरो मोटोकॉर्प को बजाज ने दूसरे नंबर पर धकेल दिया है। मई महीने में बजाज भारत की सबसे बड़ी टू-व्हीलर मार्केट बनकर उभरी है।

मनी कंट्रोल की रिपोर्ट के मुताबिक, पुणे स्थित बजाज ऑटो ने मई महीने में घरेलू और एक्सपोर्ट मार्केट में 112,798 यूनिट की बिक्री की है, जबकी इतने ही समय में हीरो मोटोकॉर्प ने घरेलू और एक्सपोर्ट मार्केट को मिलाकर 112,682 यूनिट की बिक्री की है। हालांकि दोनों के बीच बिक्री के आंकड़ों में ज्यादा अंतर नहीं है लेकिन जहां सबसे ज्यादा यूनिट की बिक्री में आगे रहने वाली हीरो दूसरे नंबर पर पहुंच गई है।

अप्रैल महीने में भी बजाज ने हीरो मोटोकॉर्प से बढ़िया प्रदर्शन किया था लेकिन अप्रैल में सिर्फ एक्सपोर्ट मार्केट खुला था लेकिन घरेलू मार्केट पूरी तरह से बंद था। लगातार छठे महीने बजाज के दो पहिया वाहनों का एक्सपोर्ट मई में भारत के भीतर अपनी दोपहिया वाहनों की सेल से अधिक था। कंपनी पल्सर और चेतक की बिक्री दूसरे देशों में भारत के मुकाबले ज्यादा करती है। जबकि देखा जाए तो हीरो मोटरसाइकिल और स्कूटर दोनों का निर्माण करती है जबकि बजाज ऑटो मुख्यत: मोटरसाइकिल का ही प्रॉडक्शन करती है। बजाज ने हाल ही में बजाज का ई-चेतक  स्कूटर लॉन्च किया है।

मनी कंट्रोल की रिपोर्ट के मुताबिक कंपनी का कहना है कि मई महीने में बजाज की कुल बिक्री में 65 फीसद योगदान एक्सपोर्ट का है। मई महीने में बजाज ने घरेलू मार्केट में 39,286 यूनिट की बिक्री की है। वहीं मई महीने में लॉकडाउन नियमों में ढील के बाद हीरो के 5,000 सेल्स और सर्विस सेंटर खुलने के बाद 108,848 यूनिट की बिक्री हुई है। इसी महीने कंपनी ने 3,834 यूनिट एक्सपोर्ट किए हैं।

एक्सपोर्ट में होने वाली वृद्धि ने एक अन्य भारतीय कंपनी की रैंकिंग को आगे बढ़ाने में मदद की है। टीवीएस मोटर कंपनी ने इसी दौरान होंडा मोटरसाइकिल एंड स्कूटर की तुलना में मई महीने में अधिक टू-व्हीलर्स वाहन बेचे हैं। अप्रैल में भी होंडा की तुलना में टीवीएस की बिक्री अधिक थी। यह पहली बार हुआ है।  


Yaspal

Related News