रविवार को इन आसान उपायों से सूर्य देव को करें प्रसन्न

Saturday, January 6, 2018 3:41 PM
रविवार को इन आसान उपायों से सूर्य देव को करें प्रसन्न

रविवार को सूर्य देव का दिन माना जाता है। इसलिए रविवार को सूर्य देव की विशेष पूजा की जाती है। सूर्य देव से इस दिन की पूजा से प्रसन्न हो व्यक्ति को इसकी समस्त परेशानियों से निजात दिलाते हैं। सूर्य की कृपा से व्यक्ति को समाज में मान-सम्मान प्राप्त होता है। साथ ही, नौकरी और भाग्य संबंधी परेशानियां भी सूर्य पूजा से दूर हो सकती हैं। आज हम आपको सूर्य देव के कुछ एेसे ही आसा उपाय बताएंगे जिन्हें रविवार के दिन करने से  सूर्य भगवान जल्द ही प्रसन्न होकर  आप पर कृपा करेंगे। 


रविवार से शुरू करके हर रोज सूर्य मंत्रों का जप करें और सूर्य को जल अर्पित करें। ये उपाय सभी सुख प्रदान करने वाला माना गया है और सूर्य नमस्कार करने से बल, बुद्धि, विद्या, वैभव, तेज, ओज, पराक्रम व दिव्यता आती है।

 

सूर्य पूजा में करें इन नियमों का पालन
प्रतिदिन सूर्योदय से पहले ही शुद्ध होकर और स्नान से कर लेना चाहिए। स्नान के पानी में खसखस या लाल रंग के फूल अथवा केसर डालकर स्नान करें। ये सभी वस्तुएं सूर्य देव से संबंधित हैं। इनसे आप सूर्य के अशुभ प्रभाव से बच सकते हैं साथ ही अनके रोगों से भी मुक्ति मिलती है।


नहाने के बाद सूर्यनारायण को तीन बार अर्घ्य देकर प्रणाम करें। प्रतिदिन सूर्य देव के मंत्र – ऊं घूणि: सूर्य आदित्य: का जाप करें। सूर्य देव को समर्पित रविवार के दिन इस मंत्र का जाप करने से सब दुख दूर हो जाते हैं। आप 10, 20 या 108 की संख्या में मंत्रों का जाप कर सकते हैं।


संध्या के समय फिर से सूर्य को अर्घ्य देकर प्रणाम करें।

 

किसी भी ग्रह की शांति के लिए उससे संबंधित वस्तुओं का दान किया जाता है। सूर्य दोष को खत्म करने के लिए तांबा, गुड़, गेहूं, मसूर की दाल दान करनी चाहिए। रविवार और सूर्य संक्रांति के दिन इनका दान करने से विशेष फल मिलता है। सूर्य ग्रहण के दिन भी सूर्य से संबंधित वस्तुओं का दान करने से लाभ मिलता है।

 

रविवार को तेल, नमक नहीं खाना चाहिए तथा एक समय ही भोजन करना चाहिए।

 

इस तरह आप सूर्य देव की आराधना कर अपने सारे कष्टों से मुक्ति पा सकते है।

 

यदि सूर्य के गोचर के दौरान आपको अशुभ फल प्राप्त हो रहे हों तो सूर्य देव का हवन जरूर करवाएं।

 

इन उपायों से कुंडली में अशुभ प्रभाव दे रहे सूर्य को बल मिलता है और वह प्रसन्न होकर आपके सब दुख दूर करते हैं।



अपना सही जीवनसंगी चुनिए | केवल भारत मैट्रिमोनी पर- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन