प. बंगाल सरकार की शराब आपूर्ति मॉडल में बदलाव की योजना, वितरकों को जोड़ेगी

09/18/2021 7:01:19 PM

कोलकाता, 18 सितंबर (भाषा) पश्चिम बंगाल का आबकारी विभाग खुदरा विक्रेताओं तक शराब की आपूर्ति को सुसंगत करने के लिए इसके वितरण मॉडल में बदलाव की योजना बना रहा है। एक अधिकारी ने शनिवार को यह जानकारी देते हुए कहा कि आपूर्ति श्रृंखला में सार्वजनिक क्षेत्र की इकाई की भूमिका को बदलने के लिए वितरकों को जोड़ने की योजना है।
नया मॉडल 18 अक्टूबर, 2021 से प्रभावी होगा।
विभाग ने पश्चिम बंगाल राज्य बेवरेज निगम (बेवको) को विदेशी शराब और देसी शराब दोनों की बिक्री के लिए वितरक मॉडल से बदलने का फैसला किया है।
अधिकारी ने बताया कि वित्त विभाग ने बेवको प्रबंधित भंडार गृह से शराब के परिवहन, आयात, भंडारण और आपूर्ति के लिए वितरकों को जोड़ने के बारे में 16 सितंबर को अधिसूचना जारी है।
विभाग ने वितरकों की नियुक्ति के लिए पश्चिम बंगाल आबकारी (विदेशी शराब) नियम-1998 और पश्चिम बंगाल आबकारी नियम-2010 में संशोधन किया है।

राज्य ने 2017 में विनिर्माताओं से शराब की खरीद करने और उसे राज्य के खुदरा विक्रेताओं को बेचने के लिए बेवको का गठन किया था। इसका मकसद शराब वितरण में पारदर्शिता को कायम रखना और गुणवत्ता नियंत्रण था।


यह आर्टिकल पंजाब केसरी टीम द्वारा संपादित नहीं है, इसे एजेंसी फीड से ऑटो-अपलोड किया गया है।

सबसे ज्यादा पढ़े गए

PTI News Agency

Recommended News