पत्थरबाजाें को अब ना सरकारी नौकरी ना पासपोर्ट वेरिफिकेशन, सरकार ने लिया कड़ा एक्शन

2021-08-01T12:56:21.247

नेशनल डेस्क:  जम्मू-कश्मीर में कानून व्यवस्था भंग करने व पत्थरबाजी में लिप्त रहे शरारती तत्वों को अब सरकारी नौकरी नहीं मिल पाएगी, इतना ही नहीं ऐसे लोगों को अब विदेश जाने का भी मौका नहीं मिलेगा। जम्मू-कश्मीर पुलिस के सीआइडी विंग ने कड़ा एकशन लेते हुए अपने सभी क्षेत्रीय स्टाफ को निर्देश दिया है कि वे ऐसे तत्वों को सुरक्षा मंजूरी न दें।

PunjabKesari

कश्मीर सीआईडी द्वारा जारी किए गए  सर्कुलर में कहा गया कि जिन लोगों से राज्य के कानून और व्यवस्था का खतरा है उन पर नज़र रखी जाए। कहा गया कि ऐसे लोगों पर सख्ती के लिए सभी डिजिटल साक्ष्य और पुलिस रिकॉर्ड को ध्यान में रखा जाएगा। पत्थरबाजी जैसे गतिविधियों में शामिल रहे युवाओं को न तो सरकारी नौकरी मिलेगी और न ही पासपोर्ट के लिए वेरिफिकेशन किया जाएगा। 

PunjabKesari
लिखित आदेश में यह भी कहा गया कि पासपोर्ट सेवा और सरकारी सेवा या सरकारी याेजनाओं के संदर्भ में जब किसी व्यक्ति की जांच करते हुए उसकी सुरक्षा मंजूरी की रिपोर्ट तैयार करते हैं, तो उस समय यह जरूर ध्यान रखें कि संबधित व्यक्ति किसी भी तरह से पत्थरबाजी, राज्य व राष्ट्र की सुरक्षा के लिए खतरा पैदा करने वाली गतिविधियों, कानून व्यवस्था भंग करने में लिप्त न रहा हो। उसके बारे में संबधित पुलिस स्टेशन से भी पूरा पता किया जाए। 

PunjabKesari
 


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

vasudha

Recommended News