कुतुब मीनार पर पूर्व ASI अधिकारी का बड़ा दावा-'इसे राजा विक्रमादित्य ने सूर्य दर्शन के लिए बनवाया था'

punjabkesari.in Thursday, May 19, 2022 - 11:04 AM (IST)

नेशनल डेस्क: भारतीय पुरातत्व सर्वेक्षण विभाग के एक पूर्व अधिकारी धर्मवीर शर्मा ने कुतुब मीनार को लेकर बड़ा दावा किया है। अधिकारी ने कहा कि कुतुब मीनार का निर्माण 5वीं शताब्दी में सम्राट विक्रमादित्य ने कराया था। उन्होंने बताया कि विक्रमादित्य ने यह मीनार इसलिए बनवाई थी, क्योंकि वे सूर्य की स्थितियों पर अध्ययन करना चाहते थे।

 

पूर्व अफसर का दावा
ASI के पूर्व रीजनल डायरैक्टर धर्मवीर शर्मा ने दावा किया है कि कुतुब मीनार को कुतब-उद-दीन ऐबक ने नहीं बनवाया था। उन्होंने कहा,‘‘ यह कुतुब मीनार नहीं, सन टॉवर है। मेरे पास इस संबंध में बहुत सारे सबूत हैं।’’ उन्होंने कहा कि कुतुब मीनार के टॉवर में 25 इंच का टिल्ट (झुकाव) है, क्योंकि यहां से सूर्य का अध्ययन किया जाता था। इसीलिए 21 जून को सूर्य आकाश में जगह बदल रहा था तब भी कुतुब मीनार की उस जगह पर आधे घंटे तक छाया नहीं पड़ी। यह विज्ञान है और एक पुरातात्विक साक्ष्य भी।

 

औरंगजेब के मकबरे की बढ़ाई सुरक्षा
 महाराष्ट्र नवनिर्माण सेना (मनसे) के एक नेता के उस कथित बयान के बाद औरंगाबाद में स्थित औरंगजेब के मकबरे की अतिरिक्त सुरक्षा की व्यवस्था की गई है जिसमें उन्होंने कहा था कि मुगल बादशाह की आखिरी आरामगाह को जमींदोज कर दिया जाना चाहिए। भारतीय पुरातत्व सर्वेक्षण (ASI) के एक अधिकारी ने बुधवार को यह जानकारी दी।

 

मनसे के प्रवक्ता गजानन काले ने मंगलवार को ट्वीट कर कहा था कि यहां औरंगजेब के मकबरे की कोई जरूरत नहीं है इसलिए उसे जमींदोज कर दिया जाना चाहिए ताकि लोग वहां न जाएं। गौरतलब है कि हाल में ऑल इंडिया मजलिस-ए-इत्तेहाद-उल मुस्लिमीन (AIMEM) नेता अकबरुद्दीन ओवैसी ने औरंगजेब के मकबरे पर जा कर नमाज अदा की थी।


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Seema Sharma

Related News

Recommended News