लॉकडाउन पर PM मोदी vs विपक्ष, नेता बोले- ऑक्सीजन की जरूरत है भाषण की नहीं

2021-04-21T13:21:43.157

नेशनल डेस्क: देश में करोना के बढ़ रहे मामलों के बीच प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मंगलवार को कहा था कि इस महामारी से लड़ने के लिए लॉकडाउन ‘अंतिम विकल्प' के रूप में होना चाहिए। पीएम मोदी ने राष्ट्रव्यापी लॉकडाउन की संभावना को भी खारिज किया और साथ ही राज्यों को भी इससे बचने की सलाह दी। हालांकि गैर भाजपा शासित राज्यों ने पहले ही लॉकडाउन लगा दिया है। दिल्ली, राजस्थान और झारखंड में पहले से ही लॉकडाउन लगा है और महाराष्ट्र सरकार आज संपूर्ण लॉकडाउन की घोषणा कर सकती है।

 

जब भाजपा शासित राज्यों में कोरोना पाबंदियां लगाई गई हैं लेकिन उन्होंने लॉकडाउन लगाने से इंकार कर दिया है। योगी सरकार ने मंगलवार को कहा था कि वो राज्य में लॉकडाउन नहीं लगाएगी वहीं गुजरात सरकार ने भी लॉकडाउन से इंकार किया है। वहीं विपक्ष ने पीएम मोदी के संबोधन पर तंज कसते हुए कहा कि देश को ऑक्सीजन की जरूरत है, भाषण की नहीं। कांग्रेसी नेताओं ने कहा कि अच्छा होता अगर पीएम मोदी अपने संबोधन ऑक्सीजन या वैक्सीन पर कुछ बोलेते। वो साफ कह कर बच गए कि यात्री अपने सामान का आप जिम्मेदार है।

 

दिल्ली में 6 दिन का लॉकडाउन
दिल्ली मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने राजधानी में 6 दिन का लॉकडाउन लगाया है। इस दौरान दिल्ली में जरूरी सेवाओं को छोड़कर सबकुछ बंद रहेगा। दिल्ली में 26 अप्रैल तक लॉकडाउन लगाया गया है। 

 

राजस्थान में 15 दिन का लॉकडाउन
राजस्थान की गहलोत सरकार ने कोरोना पर ब्रेक लगाने के लिए राज्य में 15 दिन का लॉकडाउन लगाया है। राजस्थान में 19 अप्रैल से 3 मई तक के लिए लॉकडाउन लगाया है। गहलोत सरकार ने इसे 'जन अनुशासन पखवाड़ा' नाम दिया है। लॉकडाउन के दौरान राज्य में जरूरी सेवाओं को छोड़कर अन्य सभी सेवाएं बंद रहेंगी।

 

झारखंड में एक हफ्ते का लॉकडाउन
झारखंड की हेमंत सोरने की अगुवाई वाली महागठबंधन सरकार ने राज्य में 22 से 29 अप्रैल तक के लिए संपूर्ण लॉकडाउन लगाया है। मुख्‍यमंत्री हेमंत सोरेन ने मंगलवार को लॉकडाउन का ऐलान करते हुए कहा कि गुरुवार को सुबह 6 बजे से 29 अप्रैल तक आवश्यक सेवाओं को छोड़कर सबकुछ बंद रहेगा। हालांकि महाराष्ट्र और पंजाब सरकार ने लॉकडाउन पर अभी कोई फैसला नहीं लिया है। इन दोनों राज्यों में भी कांग्रेस नीत सरकार है।

 

भाजपा शासित राज्यों की लॉकडाउन को 'न '
भाजपा शासित राज्य सरकारों ने लॉकडाउन लगाने से इंकार कर दिया है। उत्तर प्रदेश में तो हाईकोर्ट ने योगी सरकार को लॉकडाउन लगाने को कहा लेकिन सुप्रीम कोर्ट इस आदेश को खारिज कर दिया। वहीं मध्य प्रदेश में सख्त पाबंदियां लगाई गई हैं। मध्य प्रदेश में 30 अप्रैल तक के लिए कई बड़े शहरों में  कोरोना कर्फ्यू लगाया है। इसके अलावा हरियाणा की खट्टर सरकार और गुजरात सरकार ने भी साफ कह दिया है कि लॉकडाउन नहीं लगाया जाएगा।

 

यह बोले थे पीएम मोदी
पीएम मोदी ने कोरोना संक्रमण की दूसरी लहर के बीच राष्ट्र के नाम संबोधन में देशवासियों को विश्वास दिलाया कि समाज में धैर्य अनुशासन एवं तैयारी के साथ इस तूफान को भी परास्त कर पाएंगे। उन्होंने यह भी बताया कि देश में ऑक्सीजन एवं आवश्यक दवाओं के उत्पादन को बड़े पैमाने पर बढ़ाने के लिए सरकार ने समुचित कदम उठायें हैं और आने वाले दिनों में इसका असर दिखाई देगा। साथ ही पीएम मोदी ने देश में राष्ट्रव्यापी लॉकडाउन की संभावना का खारिज करते हुए कहा आज की स्थिति में देश को लॉकडाउन से बचाना है। उन्होंने कहा कि मैं राज्यों से भी अनुरोध करूंगा कि वो लॉकडाउन को अंतिम विकल्प के रूप में ही इस्तेमाल करें। लॉकडाउन से बचने की भरपूर कोशिश करनी है और सूक्ष्म निषिद्ध क्षेत्रों पर ही ध्यान केंद्रित करना है।


Content Writer

Seema Sharma

सबसे ज्यादा पढ़े गए

Recommended News

static