धारा 370 टूटने के बाद आर्थिक तरक्की के मुहाने पर है जम्मू कश्मीर

punjabkesari.in Wednesday, Feb 02, 2022 - 10:40 PM (IST)


श्रीनगर: धारा 370 टूटने के बाद जम्मू कश्मीर में विकास का एक नया अध्याय लिखा जा रहा है। पूंजी-निवेश, मूल ढांचे, पर्यटन, समाज कल्याण और कृषि के नजरिये से जल्द जम्मू कश्मीर सबके सामने एक मॉडल राज्य के रूप में उभरकर सामने आएगा।


कश्मीर में 31 हजार करोड़ के पूंजीनिवेश प्रस्ताव ध्यानरत हैं। केन्द्र सरकार ने साढ़े चार लाख लोगों को नौकरी देने के लिए 28,400 करोड़ रूपयों की स्कीम लाई है। इसी वर्ष जनवरी में एक्सपो 2020 के तहत दुबई में 6 समझौतों पर हस्ताक्षर किये गये।


59,477 करोड़ की विभिन्न योजनाएं पूरी होने को हैं। 21 योजनाएं लगभग पूरी हो चुकी हैं। इनमें से कई काम ऐसे हैं जो 15 से 20 वर्षों से लंबित पड़े थे। इनमें 84 पुल और करीब 1858 सड़क मार्ग हैं।


कश्मीर पहले ही पर्यटन के मामले में विश्व स्तर पर लोकप्रिय है और अब इसको नई दिशा मिली हैै। शिक्षा से लेकर हैल्थ सेक्टर तक, सुविधा से लेकर विकास तक, हर मार्ग पर कश्मीर अब अग्रसर हो रहा है। आईआईटी से लेकर आईआईएम तक कश्मीर में बेहतर शैक्षिणक संस्थान दिये गये हैं। 22 कालेज और दो नये विश्वविद्यालय पूरे होने को हैं।


खेल के मामले में भी कश्मीर कहीं पीछे नहीं है। मूल सुविधाओं को सुधारा गया है। कश्मीर से कई नाम उभरकर सामने आए हैं। युवाओं का ध्यान खेलों की तरफ आकर्षित हुआ है।
 


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Monika Jamwal

Related News

Recommended News