भारत के सामने दो चुनौतियां, नौसेना मुकाबला करने के लिए पूरी तरह तैयार: नेवी चीफ

2020-12-03T14:12:53.987

नेशनल डेस्क:  नौसेना प्रमुख एडमिरल करमबीर सिंह  ने एक बार फिर दोहराया कि भारत  हर चुनौती का समाना करने के लिए तैयार है। उन्होंने कहा कि भारतीय नौसेना इस समय दो चुनौतियों का सामना कर रही है लेकिन परीक्षा की इन घड़ियों में मजबूती से डटे रहने के लिए हम दृढ़ संकल्पित है। 

यह भी पढ़ें:  नहीं रहे MDH 'मसाला किंग' धर्मपाल गुलाटी, 98 साल की उम्र में हुआ निधन

LAC को बदलने की कोशिश कर रहा चीन 
नेवी चीफ ने कहा कि चीन एलएसी को बदलने की कोशिश कर रहा है। इसी दौर में कोरोना का भी खतरा है, इन दोनों के लिए हम पूरी तरह तैयार है।चीन से मिल रही चुनौतियों से निपटने परकरमबीर सिंह ने कहा कि हम जो भी कर रहे हैं, वह सेना और भारतीय वायु सेना के साथ समन्वय बना के कर रहे हैं। उन्हाेंने बताया कि  हिंद महासागर में अतिक्रमण (चीनी जहाजों द्वारा) की स्थिति से निपटने के लिए हमारे पास एक एसओपी है।

यह भी पढ़ें: ​​​​​​​करतारपुर साहिब को लेकर भारत ने पाक पर उठाए सवाल

चार महिला अफसर शिप्स पर तैनात 
नौसेना प्रमुख ने बताया कि भविष्य में हम 43 युद्धपोत और सबमरीन्स बनाने जा रहे हैं। इनमें से 41 भारत में ही तैयार किए जाएंगे। इनमें एक एयरक्राफ्ट कैरियर भी शामिल है। भारतीय नौसेना ने अपनी चार महिला अफसरों को नवंबर में शिप्स पर तैनात किया था। इनके अलावा दो महिला अफसर मालदीव और रूस में तैनात हैं।

यह भी पढ़ें: यादों में महाशय धर्मपाल गुलाटी, कई चुनौतियों को पार कर बने थे देश के मसाला किंग

तीन चीनी युद्धपोत हिंद महासागर क्षेत्र में
करमबीर सिंह ने बताया कि हमने सेना और भारतीय वायु सेना की आवश्यकता पर विभिन्न स्थानों पर पी-8 आई विमान तैनात किए हैं। इसके अलावा, हमने उत्तरी सीमाओं पर हेरोन निगरानी ड्रोन तैनात किए हैं। उन्होंने बताया कि वर्तमान में तीन चीनी युद्धपोत हिंद महासागर क्षेत्र में हैं। चीन एंटी-पायरेसी पैट्रोल को लेकर 2008 से तीन जहाजों का रखरखाव कर रहा हैं। 


vasudha

Recommended News