अफगानिस्तान ने क्षेत्रीय समृद्धि में चीन-भारत को बताया अहम, कहा- अब पाक करे सही का चुनाव

2021-04-21T11:34:55.863

वाशिंगटन: अफगानिस्तान के राष्ट्रपति अशरफ गनी ने  क्षेत्रीय समृद्धि में चीन और भारत को एक अहम कारक बताया ।  गनी ने कहा कि पड़ोसी पाकिस्तान के लिए  सही राह चुनने का समय है क्योंकि अब तक उसके सभी आकलन "गलत" रहे हैं। गनी ने एक साक्षात्कार में कहा कि मौखिक रूप से, पाकिस्तान के नेता सौभाग्य से यह स्वीकार करते हैं कि वे अफगानिस्तान में तालिबान सरकार नहीं चाहते हैं, बल्कि वे युद्धग्रस्त देश में शांतिपूर्ण, स्थिर, लोकतांत्रिक सरकार देखना चाहेंगे। 

 


उन्होंने कहा, “हम उनकी समृद्धि के लिए महत्वपूर्ण हैं। स्थिर और एकजुट अफगानिस्तान में विकास दर दो प्रतिशत तक बढ़ सकती है, हमें एक साथ काम करना होगा।" उन्होंने कहा, "इसलिये, दो विकल्प हैं ... हमारे माध्यम से मध्य एशिया से जुड़ें, शांति के लिए साझेदारी के माध्यम से संयुक्त समृद्धि में साझेदार बनें, अंतरराष्ट्रीय विश्वसनीयता और समर्थन प्राप्त करें, जिसकी उन्हें जरूरत है या अराजकता को चुनें।"

 

गनी ने कहा कि अफगानिस्तान में असुरक्षा या नए सिरे से गृहयुद्ध से सबसे ज्यादा नुकसान झेलने वाला देश पाकिस्तान होगा और उस स्थिति में यह हार का प्रस्ताव होगा। अफगानिस्तान के राष्ट्रपति ने कहा, “यह पाकिस्तान के लिए चुनने का समय है। उसके सभी आकलन गलत रहे हैं।"


Content Writer

Tanuja

सबसे ज्यादा पढ़े गए

Recommended News

static