किसानों की जायज़ मांगों पर ध्यान दे केन्द्र  :बॉर्डर किसान यूनियन

punjabkesari.in Tuesday, Mar 23, 2021 - 05:01 PM (IST)


साम्बा : बॉर्डर किसान यूनियन रामगढ़ (साम्बा) के बैनर तले किसानों ने आज जिला विकास आयुक्त अनुराधा गुप्ता के माध्यम से महामहिम उपराज्यपाल को नंदनी हिल में ज्ञापन सौंपा।     नवनियुक्त डीसी का स्वागत करते हुए यूनीयन ने विभिन्न मांगों को उठाया जिनमें गत दो फसलों के नुक्सान के लिए एसडीआरएफ की राहत राशि का भुगतान प्रमुख थी। किसान नेता मोहन सिंह भटट्टी ने डीसी को अवगत कराया कि भारी बेमौसम बारिश और तूफान के कारण उनकी दो फसलें बुरी तरह से क्षतिग्रस्त हो गईं थी जिसके लिए सरकार ने अनुदान घोषित किया और एसडीएफ से भी धनराशि जारी की लेकिन अफ़सोस है कि केवल कुछ लाभार्थियों को ही राहत वितरित की गई।

 

इसके अलावा कृषि पंप सेटों पर बिजली बिल की राहत की मांग की गई। भट्टी ने कहा कि सीमावर्ती जिला है और अधिकतम कृषि भूमि बॉर्डर पर है, जहां किसानों को फायरिंग जैसी समस्याओं का सामना करना पड़ता है और जिसके परिणामस्वरूप बिजली के कृषि पंप सेट अक्सर बंद रहते हैं। इसलिए इन पंपसेटों पर छूट दी जानी चाहिए। हरियाणा, पंजाब आदि अन्य राज्यों में पहले से ही कृषि क्षेत्र के लिए छूट दी गई है।


    एलएसी प्रमाण पत्र का मुद्दा उठाते हुए कहा कि प्रमाण पत्र जारी करने की प्रणाली में गड़बड़ी है। लोगों को तमाम औपचाकिताएं पूरी करने के बाद भी सर्टिफिकेट नहीं दिए जा रहे हैं और परेशान किया जा रहा है। एलएसी लाभ/आरक्षण से वंचित गांवों को शामिल करने की भी मांग की गई। भट्टी ने कहा कि एलएसी लाभ के लिए 6 किलोमीटर की सीमा के भीतर के गांवों को शामिल किया गया है लेकिन कई गांव इसमें शामिल नहीं किए गए हैं। 


    यूनीयन ने तीनों कृषि बिलों को भी वापस लेने की मांग की और कहा कि यूनीयन केंद्रीय सरकार के खिलाफ बीकेयू के साथ खड़ी है। इस मौके पर मनजीत सिंह, चौधरी प्रेमपाल, गुरमेल सिंह, अविनाशी सिंह, रविंदर चौधरी, अर्जुन सिंह, परमजीत, गुरचरण सिंह, सरपंच जसबीर सिंह, सुखदेव चौधरी, संतोख सिंह, गुरबख्श सिंह, बंटी चौधरी, अवतार सिंह, बचन सिंह, अमरीक सिंह, गुरचरण सिंह और अन्य उपस्थित रहे। 


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Monika Jamwal

Related News

Recommended News