नौसेना की स्वदेशी पनडुब्बी पर सवार हुए रक्षा मंत्री, संचालन गतिविधियों का बारीकी से लिया जायजा

punjabkesari.in Friday, May 27, 2022 - 01:43 PM (IST)

नेशनल डेस्क: रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने कहा है कि नौसेना अपनी ताकत बढाने के लिए जो तैयारी कर रही है वह किसी देश के खिलाफ नहीं बल्कि हिन्द महासागर क्षेत्र में शांति और समृद्धि के लिए है। सिंह शुक्रवार को कारवाड़ नौसैनिक अड्डे से नौसेना की स्वदेशी पनडुब्बी खंडेरी में सवार हुए और पनडुब्बी की पानी के भीतर की गतिविधियों तथा क्षमता का जायजा लिया। बाद में उन्होंने कहा, ‘‘इंडियन नेवी की ताकत को बहुत नजदीक से दिखाने के लिए मैं नेवी चीफ एडमिरल हरि कुमार, वाइस एडमिरल अजेंद्र बहादुर सिंह और उनकी पूरी टीम को धन्यवाद देता हूं और उन्हें बधाई देता हूं कि उन्होंने भारत की सुरक्षा के प्रति मुझे और भी अधिक भरोसा दिया है।

हमारी इंडियन नेवी की जो भी तैयारियां हो रही है, वह किसी के खिलाफ नही है, बल्कि इस पूरे हिन्द महासागर क्षेत्र में सभी की शांति और समृद्धि के लिए है।''  रक्षा मंत्री ने कहा कि खंडेरी में नौसेना की ताकत का अनुभव करने के बाद उनका भरोसा और भी पक्का हो गया है कि नौसेना हर स्थिति और परिस्थिति का सफलातपूर्वक सामना करने में सक्षम है। उन्होंने कहा, ‘‘आज मुझे ‘आई.एन.एस. खंडेरी' जो कि इंडियन नेवी की ‘अटैक सबमरीन' है उसमें ‘साटर्ी' करने का मौका मिला। मैंने बहुत करीब से भारतीय नौसेना की पानी के भीतर की क्षमता को देखा।

मैंने आज जो कुछ भी अनुभव किया उसके बाद मेरा भरोसा और भी पक्का हो गया है कि इंडियन नेवी एक ऐसी ‘आधुनिक, सक्षम और विश्वसनीय‘ फोर्स है जो कि हर स्थिति और परिस्थिति में सर्तक, बहादुर और विजयी रहने में सक्षम है।'' उन्होंने कहा कि भारतीय नौसेना की गिनती दुनिया की अग्रणी नौसेनाओं में होती है और दुनिया की बड़ी बड़ी समुद्री ताकत भारत के साथ काम करने और सहयोग करने को तैयार है। उन्होंने कहा कि इस वर्ष हम आजादी का ‘अमृत महोत्सव' मना रहे हैं तो देश में ही बना विमानवाहक पोत आईएनएस विक्रांत लोकार्पण के लिए तैयार हो रहा है।

विक्रांत और विक्रमादित्य मिलकर देश की समुद्री सुरक्षा को बहुत बड़ी मजबूती देंगे। नौसेना ने हाल ही में जिस तेज गति से नौसैनिक प्लेटफार्म लांच किये हैं उससे प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के ‘आत्मनिर्भर भारत' के अभियान को काफी मजबूती मिली है। सिंह ने कहा कि आईएनएस खंडेरी का लोकार्पण खुद उन्होंने ही किया था और यह मेक इन इंडिया क्षमता का शानदार उदाहरण है। इससे पहले श्री सिंह ने सुबह कारवार नौसैनिक अड्डे पर नौसेना के अधिकारियों और नाविकों के साथ योगाभ्यास में भी हिस्सा लिया। श्री सिंह दो दिन की यात्रा पर गुरुवार को कारोबार नौसैनिक अड्डे पहुंचे थे।

 


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Editor

rajesh kumar

Related News

Recommended News