कांग्रेस की दिल्ली इकाई के उपाध्यक्ष और पार्टी की नवनिर्वाचित दो पार्षद ‘आप'' में शामिल

punjabkesari.in Friday, Dec 09, 2022 - 09:59 PM (IST)

नेशनल डेस्क : दिल्ली नगर निगम (एमसीडी) चुनाव के नतीजे आने के महज दो दिनों के बाद ही कांग्रेस को झटका देते हुए उसके दो नव निर्वाचित पार्षद और पार्टी की दिल्ली इकाई के उपाध्यक्ष अली मेहदी शुक्रवार को आम आदमी पार्टी (आप) में शामिल हो गए। कांग्रेस का साथ छोड़ ‘आप' में शामिल होने वाली पार्षदों में सबीला बेगम और नाजिया खातून शामिल हैं। इसके साथ ही एमसीडी में ‘आप' के पार्षदों की संख्या बढ़कर 136 हो गई है। उल्लेखनीय है कि दल-बदल कानून एमसीडी चुनाव पर लागू नहीं होता है।

‘आप' नेता दुर्गेश पाठक ने यहां आयोजित संवाददाता सम्मेलन में बताया कि उन्होंने (पार्टी में शामिल होने वाले कांग्रेस नेताओं) दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के काम को देखकर आप में शामिल होने का फैसला किया। पाठक ने कहा, ‘‘हमने भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) और कांग्रेस को दिल्ली की बेहतरी के वास्ते काम करने के लिये आमंत्रित किया है। मुझे खुशी है कि दिल्ली कांग्रेस के उपाध्यक्ष अली मेहदी और पार्टी की दो नवनिर्वाचित पार्षद सबीला बेगम और नाजिया खातून ने ‘आप' में शामिल होने की घोषणा की है।''

उन्होंने कहा कि नेहरू विहार ब्लॉक के अध्यक्ष अली अंसारी, दिल्ली कांग्रेस के कार्यकारी सदस्य हाजी खुशनूद, मुस्तफा ब्लॉक के अध्यक्ष जावेद चौधरी और शिव विहार ब्लॉक अध्यक्ष अशोक बघेल भी ‘आप' में शामिल हो रहे हैं। पाठक ने कहा, ‘‘हम सभी का दिल से आप में स्वागत करते हैं। हम एमसीडी में उनके सहयोग से और मजबूत और प्रभावी तरीके से काम करेंगे।'' उल्लेखनीय है कि अरविंद केजरीवाल नीत ‘आप' ने 250 वार्ड में से 134 सीट पर जीत हासिल करके दिल्ली नगर निगम में 15 साल के भाजपा के शासन का अंत किया था।

इस चुनाव में भाजपा को 104 सीट मिली थी। . सबीला बेगम वार्ड संख्या 243 मुस्तफाबाद से और नाजिया खातून वार्ड संख्या 245 बृज पुरी से निर्वाचित हुई हैं। कांग्रेस को हाल में संपन्न एमसीडी चुनाव में नौ सीट मिली थी। मेहदी ने कहा कि वह अपने क्षेत्र में विकास चाहते हैं इसलिए ‘आप' में शामिल होने का फैसला किया। मेहदी ने कहा, ‘‘हमने अरविंद केजरीवाल के विकास कार्यों को देखकर ‘आप' में शामिल होने का फैसला किया। हम अपने इलाके में विकास चाहते हैं। केजरीवाल के नेतृत्व में ‘आप' राष्ट्रीय राजधानी के विकास के लिए कड़ी मेहनत कर रही है।''

उन्होंने कहा, ‘‘मुस्तफाबाद मेरा घर है और पिता दो बार यहां से विधायक रहे। उनके कार्यकाल में हमने अपने वार्ड के लिए कड़ी मेहनत की, लेकिन उनका कार्यकाल समाप्त होने के बाद से मुस्तफाबाद में विकास कार्य की गति धीमी हो गई।'' मेहदी ने कहा, ‘‘यह हमें चिंतित करती है और जब मुझे अरविंद केजरीवाल से मिलने का मौका मिला तो मैंने यह बात रखी। उन्होंने कहा कि अगर हम मिलकर काम कर सकते हैं तो हम इलाके के लोगों के लिए और काम कर सकते हैं।'' उन्होंने कहा कि केजरीवाल जिस तरह से भाजपा की विभाजनकारी शक्तियों के खिलाफ खड़े हुए हैं उससे हम प्रभावित हैं और विश्वास है कि आने वाले सालों में ‘आप' और मजबूत होगी।

उन्होंने कहा, ‘‘हम शुक्रगुजार हैं कि आज ‘आप' में शामिल हो रहे हैं और मुस्फाबाद के आगे के विकास कार्य को देख रहे हैं।'' इस बीच, दिल्ली कांग्रेस के उपाध्यक्ष मुदित अग्रवाल ने आरोप लगाया कि ‘आप' पार्टी के कुछ अन्य पार्षदों को भी ‘‘प्रलोभित' करने का प्रयास कर रही है। अग्रवाल ने कहा, ‘‘क्या यही है अरविंद केजरीवाल की कट्टर ईमानदार राजनीति? यह साबित करती है कि आप, भाजपा की ‘बी' टीम है।उसने भाजपा की तरह कांग्रेस के दो पार्षदों को अपने पक्ष में किया।'' कांग्रेस के पार्षदों के पाला बदलने से महापौर और उप महापौर के चुनाव में ‘आप' को मजबूती मिलेगी।


सबसे ज्यादा पढ़े गए

News Editor

Parveen Kumar

Related News

Recommended News