11वीं की छात्रा ने हॉस्टल में दिया मृत बच्चे को जन्म, वार्डन सस्पेंड

2020-01-19T21:28:11.043

दंतेवाड़ा: छत्तीसगढ़ के दंतेवाड़ा जिले में आदिवासियों के एक छात्रावास में 19 वर्षीय अविवाहित लड़की द्वारा मृत बच्चे को जन्म देने के बाद जांच के आदेश दे दिए गए हैं और एक व्यक्ति को निलंबित कर दिया गया है। दंतेवाड़ा के कलेक्टर टोपेश्वर वर्मा ने कहा कि बस्तर जिले की निवासी लड़की ने 17 जनवरी को पतरस गांव स्थित छात्रावास में बच्चे को जन्म दिया और बाद में उसे यहां के एक अस्पताल में भर्ती कराया गया। उन्होंने कहा,‘बच्चा मृत था। आदिवासी विभाग द्वारा जिला प्रशासन को सतर्क करने के बाद घटना की जांच के आदेश दे दिए गए हैं।

PunjabKesari
प्रारंभिक निष्कर्षों के मुताबिक छात्रावास अधीक्षक हेमलता नाग को निलंबित कर दिया गया है।' वर्मा ने कहा कि ग्यारहवीं की छात्रा ने पिछले वर्ष अगस्त में पतरस में अंग्रेजी माध्यम के स्कूल में नामांकन लिया था और वह आदिवासी छात्रावास में रह रही थी। मामले की जांच कर रही उप कलेक्टर प्रीति दुर्गम ने कहा कि लड़की ने सूचना दी थी कि उसका अपने गांव के एक लड़के के साथ संबंध था, हालांकि इसकी पुष्टि नहीं हुई है। दुर्गम ने कहा कि यह भी जांच की जा रही है कि लड़की का गर्भकाल पूरा होने के बावजूद छात्रावास के कर्मचारियों को कैसे इस बारे में पता नहीं चला।
PunjabKesari


shukdev

Related News