See More

आयुष्मान भारत योजना के तहत अब सरकार ही उठाएगी कोरोना का खर्च

2020-04-05T17:02:05.39

नई दिल्ली: केंद्र सरकार ने शनिवार को बयान जारी किया कि प्राइवेट लैब्स और हॉस्पिटल में होने वाला कोरोना टेस्ट, आयुष्मान भारत प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना के तहत किया जाएगा। अब इस योजना के लाभार्थियों का इलाज और टेस्ट फ्री हो जाएगा। सरकारी अस्पतालों में इसकी टेस्टिंग और इलाज पहले से ही फ्री है। करीब 50 करोड़ लोगों को फायदा मिलेगा। यह भारत सरकार की ओर से वंचित तबके के लिए शुरू की गई स्वास्थ्य बीमा योजना है। यह दुनिया की सबसे बड़ी सरकारी स्वास्थ्य बीमा योजना है। इसके तहत प्रत्येक परिवार को सालाना 5 लाख का बीमा कवर मिलता है।

इस योजना के लाभार्थी को अगर किसी प्राइवेट हॉस्पिटल में आइसोलेशन में रहना पड़ता है, तो इसका खर्च भी आयुष्मान भारत योजना में शामिल होगा। प्राइवेट लैब्स में यह टेस्ट इंडियन काउंसिल फॉर मेडिकल रिसर्च (आईसीएमआर) के दिशा-निर्देशों के अनुसार किए जाएंगे। इस से आम जनता पर अस्पताल और टेस्ट या दवा का खर्चा भी कम होगा।  केंद्र और राज्य सरकार की तरफ से इस महामारी के वक़्त ऐसे कई कदम उठाए जा रहे है।  

इन राज्यों में नहीं है ये योजना  
तेलंगाना, ओडिशा और प.बंगाल की सरकार ने अपने राज्य में आयुष्मान भारत योजना को नहीं लागू किया है। हालांकि दिल्ली ने वित्त वर्ष 2020-21 से इस योजना को लागू किया है। इससे पहले दिल्ली सरकार यह कहकर इस योजना का विरोध करती रही थी कि उसके पास पहले ही आयुष्मान योजना से बेहतर योजनाएं हैं।


Author

Riya bawa

Related News