कराची में फंसे गोधरा के 26 लोग भारत लौटे

2019-08-31T20:10:45.527

गोधरा: भारत-पाकिस्तान के बीच समझौता एक्सप्रेस और थार एक्सप्रेस ट्रेनें निलंबित होने के बाद कराची में फंसे गुजरात निवासी 26 लोग शनिवार को वाघा सीमा के जरिए भारत लौट आए। उनके संबंधियों ने यह जानकारी दी। दोनों देशों के बीच रेल सेवाएं निलंबित होने के चलते गुजरात के पंचमहल जिले के गोधरा के करीब 50 लोगों को दो सप्ताह अधिक पाकिस्तान के कराची शहर में ठहरना पड़ा। उनके साथ बच्चे और महिलाएं भी शामिल थीं। 

पाकिस्तान ने पांच अगस्त को भारत सरकार द्वारा जम्मू-कश्मीर से विशेष दर्जा वापस लिए जाने के बाद दोनों ट्रेनें निलंबित कर दी थीं। स्थानीय निवासी अनस होलिया ने कहा कि गोधरा के पर्यटकों के पास कराची में ठहरने के लिए एक महीने का पर्यटन वीजा था, जिसे पाकिस्तान ने रेल सेवाएं निलंबित होने के बाद 15 दिन के लिए बढ़ा दिया था। 

होलिया के परिजन को 16 अगस्त को वापसी के लिए थार एक्सप्रेस में सवार होना था। अब वह सोमवार को लौटेंगे 'कराची चैम्बर ऑफ कॉमर्स' से जुड़े एक पाकिस्तानी नागरिक सलीम मुर्शाद ने कहा कि शनिवार सुबह 26 लोगों का समूह लाहौर के जरिए वाघा बॉर्ड पर पहुंचा और अब वे अमृतसर जाएंगे, जहां उन्हें गोधरा लौटने के लिए 'गोल्डन टेम्पल मेल' में सवार होना है।


shukdev

Related News