See More

महाराष्ट्र सरकार प्याज निर्यात पर रोक हटाने के लिए केंद्र को लिखेगी पत्र

2020-09-16T22:35:43.473

मुंबई, 16 सितंबर (भाषा) प्याज निर्यात पर रोक को लेकर महाराष्ट्र में विभिन्न स्थानों पर विरोध प्रदर्शन के बीच मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने बुधवार को कहा कि इस मामले में राज्य सरकार केंद्र को पत्र लिखकर प्याज निर्यात पर प्रतिबंध को हटाने के लिए कहेगी।

मुख्यमंत्री कार्यालय के आधिकारिक बयान के मुताबिक केंद्र सरकार के प्याज निर्यात पर प्रतिबंध के फैसले पर राज्य के मंत्रियों के रोष जताने के बाद मंत्रिमंडल की बैठक में ठाकरे ने यह बात कही।

उल्लेखनीय है कि केंद्र सरकार ने घरेलू बाजार में कीमतें नियंत्रित करने और प्याज की उपलब्धता बढ़ाने के लिए सोमवार को प्याज की सभी किस्म के निर्यात पर पाबंदी लगा दी।

बयान के मुताबिक ठाकरे ने कहा कि उनकी सरकार केंद्र को पत्र लिखकर प्याज निर्यात पर प्रतिबंध को वापस लेने के लिए कहेगी। महाराष्ट्र प्याज का एक प्रमुख उत्पादक राज्य है और केंद्र सरकार के इस फैसले से यहां के किसान बड़े स्तर पर प्रभावित होंगे।

बयान में कहा गया है कि राज्य के प्रधान सचिव अनूप कुमार ने मंत्रिमंडल को सूचित किया कि 2018-19 में राज्य से 21.83 लाख टन प्याज का निर्यात किया गया। जबकि 2019-20 में यह आंकड़ा 18.50 लाख टन रहा।

राज्य के शहरी विकास मंत्री एकनाथ शिंदे ने कहा कि केंद्र के इस फैसले से निर्यात के लिए जाने वाला चार लाख टन प्याज मुंबई के जवाहर लाल नेहरू बंदरगाह पर अटक गया है। जबकि राज्य के प्याज लदे 500 से अधिक ट्रक नेपाल और बांग्लादेश सीमा पर अटके हैं।

इस बीच महाराष्ट्र सरकार में सहयोगी कांग्रेस ने बुधवार को केंद्र सरकार के इस निर्णय के विरोध में राज्यभर में प्रदर्शन किया।


यह आर्टिकल पंजाब केसरी टीम द्वारा संपादित नहीं है, इसे एजेंसी फीड से ऑटो-अपलोड किया गया है।

Edited By

PTI News Agency

Related News