See More

चीन में क्या हुआ था जब लाखों कॉकरोचों ने बोल दिया था एक साथ हमला?

2020-06-17T17:34:41.76

नई दिल्ली/डेस्क। दुनिया को कोरोना वायरस देने वाला चीन जंगली जानवरों को खाने के लिए जाना जाता है। चीन में कीड़ें-मकोड़ों और जानवरों को मार कर दवाएं भी बनाई जाती है। ये दवाएं चीन के लिए पारंपरिक दवाओं के तहत तैयार की जाती हैं। 

इन दवाओं का चीन में बहुत बड़ा बाजार भी है जहां ये खास दवाएं महंगे दामों पर खरीदी और बेची जाती है। आपको जान कर हैरानी होगी लेकिन चीन में कॉक्रोच को भी दवा बनाने के लिए पाला जाता है। कॉक्रोच से बनी दवाओं का बड़ी मात्रा में निर्यात भी किया जाता है। 

इन दवाओं के लिए चीन में कॉक्रोच का अरबों-खरबों की तादात में पाला जाता है। यहां एक किलोग्राम कॉक्रोच के बदले 6800 रूपये दिए जाते हैं। यही वजह है कि चीन में कॉक्रोच पालने के लिए नर्सरियां बनाई जाती हैं, लेकिन एक बार ऐसा हुआ जिसने चीन को मुसीबत में डाल दिया।

कॉक्रोचों ने किया था हमला 
बताया जाता है कि चीन के डाफेंग शहर में कॉक्रोच पालन का काम किया जाता हैं। यहां तकरीबन 10 लाख से ज्यादा कॉक्रोच पाले गए थे। तभी एक दिन इस पालघर का एक हिस्सा टूट गया। एक हिस्सा टूटने से जितने भी कीड़े थे वो भाग निकले। इस बारे में फेमस डिस्कवरी चैनल पर रिपोर्टिंग की गई थी। 

बताया जाता है कि इस पालघर के मालिक की नर्सरी में 102 किलोग्राम कॉक्रोच थे जिन्होंने अंडे दिए थे जो बड़े हो चुके थे और उन्हें बेचा जाना था। लेकिन अचानक यह घटना हो गई। इससे पालघर मालिक का बहुत बड़ा नुकसान हुआ। 

साथ ही शहर में लोगों की शामत आ गई थी। इसके बाद जल्दबाज़ी करते हुए शहर में सफाई की गई। कुछ कॉक्रोच को मारा गया और कुछ को पकड़ा गया। इसके बाद एक बार फिर से पालन शुरू हुआ।

चीन में होती है 6 बिलियन खेती 
कुछ रिपोर्ट्स की माने तो चीन में 6 बिलियन से भी ज्यादा कॉक्रोचों की खेती की जाती है। इनसे चीन में पांरपरिक दवाएं बनाई जाती है। चीन का दक्षिणपूर्वी के शीचांग शहर में बड़ी मात्रा में इनकी पैदावार की जाती है। इसके लिए एक जेल की तरह पूरा पालघर तैयार किया गया है जो आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस के जरिए भीतर के वातावरण को कंट्रोल करता है यानी यहां कॉक्रोचों के रहने के मुताबिक ही वातावरण तैयार किया जाता है। इसके लिए पालघर के मालिक करोड़ों रूपये खर्च करते हैं। 

काफी उपयोगी हैं ये कॉक्रोच
कॉक्रोच की लाइफ 6 महीनें की होती है और इसको ये पालघर व्यापारी पूरी तरह से भुना लेना चाहते हैं। कॉक्रोच से बनी दवाएं पेट की बिमारियों, अल्सर और कई दूसरी जटिल बिमारियों को ठीक करती है। इतना ही नहीं इसका इस्तेमाल डाइट-पिल्स और ब्यूटी मास्क में भी होने लगा है। एक रिपोर्ट के अनुसार 100 मिलीलीटर की एक बोतल की कीमत लगभग 285 रुपए होती है। इसके साथ ही चीन में कॉक्रोच से वेस्ट मैनेजमेंट को मैनेज किया जा रहा है।


Chandan

Related News