आज जिनका जन्मदिन है, जानें कैसा रहेगा आने वाला साल

10/17/2021 8:57:21 AM

शास्त्रों की बात, जानें धर्म के साथ
Today's Birthday Prediction in Hindi:- आज आप के जन्मदिन की आप को बहुत शुभकामनाएं। 17 अक्टूबर में जन्में व्यक्तियों का मूलांक 8 होता है जिन के स्वामी शनि देव हैं। मूलांक 8 वाले जातक गंभीर स्वभाव के होते हैं। इनको कम बोलना पसंद होता है। पिता के साथ इनके वैचारिक मतभेद होते हैं। अपने महत्वपूर्ण कार्यों को पूर्ण करने के लिए केन्द्रित होते हैं, परन्तु सफलता की गति धीमी होती है। यह लोग बहुत ही अंतर्मुखी होते हैं। इनको जीवन में सफलता प्राप्त करने के लिए बहुत सी कठिनाइयों का सामना करना पड़ता है। ये लोग बहुत तर्कशील होते हैं। ये हर बात बहुत ही सोच समझ कर करते हैं।

अक्टूबर के महीने में किसी भी प्रकार का बड़ा निर्णय न लें। आर्थिक मामलों के लेन-देन से बचें। नवम्बर में लम्बे समय से चल रही चिंता दूर होगी। पारिवारिक सुख-चैन बनेगा। दिसम्बर में आपकी मेहनत और व्यवहार कुशलता से आर्थिक लाभ में वृद्धि होगी। निजी सुधारों में मधुरता बढ़ेगी। जनवरी में जीवनसाथी के साथ तालमेल बनाकर रखने का प्रयास करें, बहसबाजी से बचें। फरवरी में मानसिक उलझन और चिंता से थकान महसूस करेंगे। व्यापार में लाभ से हानि का अनुपात अधिक होगा। 

मार्च  में परिवार के साथ समय बिताने का मौका मिलेगा। विद्यार्थियों के लिए बेहतर महिना रहेगा। अप्रैल में कार्यक्षेत्र में काम की अधिकता रहेगी पर समय का अभाव रहेगा। आपको अपने क्रोध पर नियंत्रण रखने की आवश्यता होगी। मई में कार्यक्षेत्र में आपकी कार्य कुशलता में निखार दिखाई देगा। संतान के ख़राब स्वास्थ्य में सुधार आएगा। जून में जीवनसाथी के साथ प्रेम बढ़ेगा और सहयोग की भावना बढ़ेगी। जुलाई में अकारण किसी बात को लेकर चिंतित होंगे। बाहर के खानपान को लेकर सावधानी रखें, अन्यथा पेट से सम्बंधित कोई रोग हो सकता है। अगस्त में वाहन या अचल संपत्ति को खरीदने में रूचि बढ़ेगी। किसी भी प्रकार की लापरवाही से बचें। सितम्बर में घर के अधूरे कामों को पूरा करने में समय व्यतीत करेंगे। नौकरी में आपके प्रयास सफल होंगे।

उपाय- इस वर्ष के शुभ फल प्राप्त करने के लिए शनि देव की आराधना करें।
सरसों के तेल का दान करें।
जंग लगा कोई भी हथियार घर में न रखें
हनुमान चालीसा का पाठ करें।
काले रंग के वस्त्र दान करें।
उड़द की दाल जल में प्रवाहित करें, मांस मदिरा का सेवन करें।

आचार्य लोकेश धमीजा
वेबसाइट – www.gurukulastro.com

  
 


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Jyoti

Recommended News