Makar Sankranti 2022: इन उपायों को करने से मिलेगा लाभ ही लाभ

punjabkesari.in Thursday, Jan 13, 2022 - 09:37 PM (IST)

शास्त्रों की बात, जानें धर्म के साथ
14 जनवरी 2022 दिन शुक्रवार को इस साल का मकर संक्रांति का पर्व मनाया जाएगा। देशभर में ये त्यौहार अधिक धूम धाम से मनाया जाता है। कुछ लोग इस दिन पतंगबाजी करते हैं, कुछ गुड़ आदि से व्यंजन बनाकर और उसे खाकर ये त्यौहार मनाते हैं। तो वहीं इस दिन स्नान-दान का भी अधिक महत्व होता है। लेकिन क्या आप जानते हैं इस दिन कुछ उपाय आदि भी किए जा सकते हैं। जी हां, आज हम आपको ऐसे ही कुछ उपाय बताए जाने वाले हैं। सबसे पहले जानें मकर संक्रांति का मुहूर्त- 

मकर संक्रांति शुक्रवार, जनवरी 14, 2022 को
मकर संक्रांति पुण्य काल - 02:43 पी एम से 06:21 पी एम
अवधि - 03 घण्टे 38 मिनट्स
मकर संक्रांति महा पुण्य काल - 02:43 पी एम से 04:34 पी एम
अवधि - 01 घण्टा 51 मिनट्स
मकर संक्रांति का क्षण - 02:43 पी एम

मकर संक्रांति के ख़ास उपाय-
जल में पीले पुष्प, हल्दी, तिल मिलाकर अर्घ्य दें, तिल-गुड़ का दान दें, उच्च पद की प्राप्ति होगी।

जल में सफेद चंदन, दुग्ध, श्वेत पुष्प, तिल डालकर सूर्य को अर्घ्य दें, बड़ी जवाबदारी मिलने और महत्वपूर्ण योजनाएं प्रारंभ होने के योग बनेंगे। 

जल में तिल, दूर्वा तथा पुष्प मिलाकर सूर्य को अर्घ्य दें, गाय को हरा चारा दें, मूंग की दाल की खिचड़ी दान दें, ऐश्वर्य की प्राप्ति होगी।

जल में दूध, चावल, तिल मिलाकर सूर्य को अर्घ्य दें, चावल-मिश्री-तिल का दान दें, घर के कलह शांत होगा।

जल में कुमकुम और रक्त पुष्प, तिल डालकर सूर्य को अर्घ्य दें, तिल, गुड़, गेहूं, सोना दान दें, काम में बड़ी उपलब्धि होगी।

जल में तिल, दूर्वा, फूल डालकर सूर्य को अर्घ्य दें, मूंग की दाल की खिचड़ी दान दें गाय को चारा दें, शुभ समाचार मिलेगा।

सफेद चंदन, दुग्धू, चावल, तिल मिलाकर सूर्य को अर्घ्य दें, व्यवसाय में बाहरी संबंधों से लाभ मिलेगा।

जल में कुमकुम, लाल फूल और तिल मिलाकर सूर्य को अर्घ्य दें, गुड़ का दान दें, विदेशी कार्यों से लाभ मिलेगा।

जल में हल्दी, केसर, पीले पुष्प और मिल मिलाकर सूर्य को अर्घ्य दें, हर क्षेत्र में जीत मिलेगी।

जल में काले-नीले पुष्प, तिल मिलाकर सूर्य को अर्घ्य दें, गरीब-अपंगों को भोजन दान दें, अधिकार की प्राप्ति होगी।

जल में नीले-काले पुष्प, काले उड़द, सरसों का तेल-तिल मिलाकर सूर्य को अर्घ्य दें, तेल-तिल का दान दें, विरोधी परास्त होंगे।

हल्दी, केसर, पीत पुष्प, तिल मिलाकर सूर्य को अर्घ्य दें, सरसों, केसर का दान दें, सम्मान और यश बढ़ेगा।
 


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Jyoti

Related News

Recommended News