Hanuman Jayanti 2022: आज बनेगा शनि कृपा प्राप्त करने का विशेष संयोग

punjabkesari.in Saturday, Apr 16, 2022 - 08:14 AM (IST)

शास्त्रों की बात, जानें धर्म के साथ

Hanuman Jayanti 2022: आज श्री हनुमान जी का जन्मोत्सव 16 अप्रैल 2022 दिन शनिवार को मनाया जायेगा। इस दिन पूर्णिमा तिथि प्रातः 2 बजकर 27 मिनट से आरम्भ होकर रात्रि 12 बजकर 26 मिनट तक रहेगी। 

अगर किसी पर न्यायाधीश के रूप में स्थापित ग्रह शनिदेव का नकारात्मक प्रभाव चल रहा है तो उनके लिये यह दिन एक ऐसा दिन है। जिस दिन आप भगवान श्री हनुमान जी के कुछ ऐसे उपायों का पालन करके शनिदेव के नकारात्मक प्रभाव को सकारात्मक प्रभाव के रूप में बदल सकते हैं। सुल्तानपुर लोधी स्थित तांबे में पत्रों पर लिखित प्राचीन श्री भृगु संहिता जो कि महार्षि भृगु जी द्वारा सृष्टि के आरम्भ में लिखी गयी थी। इस ग्रंथ को पढ़ने वाले माहायश वाचक श्री मुकेश पाठक जी इन उपायों की व्याख्या इस प्रकार करते हैं- 

अगर किसी को भी शनि की साढ़ेसाती, शनि ढैय्या, शनि की महादशा एवं किसी भी रूप में शत्रुओं का भय रहता है चाहे वह नौकरी, व्यापार, घर-परिवार में परेशानियां, रोग, कोर्ट-कचहरी, मुकदमे में ही क्यों न हों, उन्हें यह उपाय अवश्य करना चाहिए। उपाय इस प्रकार है- आज के दिन रक्त रंग की ध्वजा जिस पर स्वास्तिक का चिन्ह बना हो। ऐसी ध्वजा को डंडे के साथ बांधकर किसी भी हनुमान जी के मंदिर के गुम्बद पर प्रातः 8 बजे से 11 बजे के दौरान चढ़ानी चाहिए। जैसे-जैसे यह ध्वजा हवा में लहराएगी वैसे-वैसे ही उस ध्वजा चढ़ाने वाले व्यक्ति का यश, मान, कीर्ती बढ़ती जायेगी, उसके सामने आने से शत्रुओं की शत्रुता का भाव समाप्त हो जायेगा और आत्मबल में बढ़ोतरी होती जायेगी। 

अगर किसी को हनुमान जी की विशेष कृपा प्राप्त करनी हो तो इस दिन प्रातः 8 से 11 बजे के दौरान चमेली के तेल के साथ सिंदूर मिलाकर हनुमान जी का श्रृंगार करना चाहिए तथा मीठे पान का भोग लगाना चाहिए। ऐसा उपाय करने से हनुमान जी की विशेष कृपा के पात्र बन जाएंगे। इस उपाय के प्रभाव से जो भी हनुमान भक्त होता है, उस पर से शनि का नकारात्मक प्रभाव धीरे-धीरे शांत हो जाता है और पूर्ण रूप से शनिदेव का सकारात्मक प्रभाव प्राप्त होकर शनि कृपा बरसने लगती है। 

Sanjay Dara Singh
AstroGem Scientist
LLB., Graduate Gemologist GIA (Gemological Institute of America), Astrology, Numerology and Vastu (SSM)

 


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Niyati Bhandari

Related News

Recommended News