Gita Mahotsav: मंत्रोच्चारण और शंखनाद के बीच अंतरराष्ट्रीय गीता महोत्सव शुरू

punjabkesari.in Wednesday, Nov 30, 2022 - 08:35 AM (IST)

शास्त्रों की बात, जानें धर्म के साथ

कुरुक्षेत्र (धमीजा): मंत्रोच्चारण और शंखनाद के बीच कुरुक्षेत्र के अंतरराष्ट्रीय गीता महोत्सव-2022 का आगाज हुआ। राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू, राज्यपाल बंडारू दतात्रेय, मुख्यमंत्री मनोहर लाल, गीता मनीषी स्वामी ज्ञानानंद ने ब्रह्मसरोवर के पवित्र जल का आचमन कर पवित्र ग्रंथ गीता का पूजन कर अंतरराष्ट्रीय गीता महोत्सव का शुभारंभ किया। 

1100  रुपए मूल्य की जन्म कुंडली मुफ्त में पाएं। अपनी जन्म तिथि अपने नाम, जन्म के समय और जन्म के स्थान के साथ हमें 96189-89025 पर व्हाट्सएप करें

राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू का कुरुक्षेत्र विश्वविद्यालय हैलीपैड पर राज्यपाल बंडारू दत्तात्रेय, मुख्यमंत्री मनोहर लाल, खेल एवं युवा मामले मंत्री संदीप सिंह, सांसद नायब सैनी, सांसद रतन लाल कटारिया, विधायक सुभाष सधा, हरियाणा के मुख्य सचिव संजीव कौशल ने स्वागत किया। राष्ट्रपति मुर्मू, राज्यपाल दत्तात्रेय व मुख्यमंत्री ने गीता पूजन के गीता यज्ञ में पूर्णाहुति डालकर अंतरराष्ट्रीय गीता महोत्सव का शुभारंभ किया। इसके पश्चात सभी मेहमानों ने सूचना जनसम्पर्क एवं भाषा विभाग की राज्य स्तरीय प्रदर्शनी का अवलोकन किया। 

महोत्सव 29 नवम्बर से 4 दिसम्बर तक चलेगा। इसमें 55 हजार विद्यार्थियों के साथ ऑनलाइन व ऑफलाइन वैश्विक गीता पाठ, उत्तर क्षेत्र सांस्कृतिक कला केंद्र पटियाला, हरियाणा कला एवं सांस्कृतिक कार्य विभाग द्वारा विभिन्न राज्यों के कलाकारों के सांस्कृतिक कार्यक्रम, अंतरराष्ट्रीय गीता सैमीनार, संत सम्मेलन, ब्रह्मसरोवर की महाआरती, दीपोत्सव, 48 कोस के 75 तीर्थों पर सांस्कृतिक कार्यक्रम आदि मुख्य आकर्षण का केंद्र रहेंगे। इसके लिए प्रशासन और कुरुक्षेत्र विकास बोर्ड की तरफ से सुरक्षा और व्यवस्था के तमाम पुख्ता इंतजाम किए गए हैं।

PunjabKesari kundli


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Niyati Bhandari

Related News

Recommended News