अंत तक उत्साह नहीं बनाए रख पाते ''भाग्यांक 5'' वाले लोग

punjabkesari.in Friday, Dec 10, 2021 - 04:20 PM (IST)

शास्त्रों की बात, जानें धर्म के साथ
ज्योतिष शास्त्र में बताया गया है कि भाग्यांक 5 वाले व्यक्ति पूर्णतः परिवर्तनवादी कहे जा सकते हैं क्योंकि ये पूर्णतः सजग और चैतन्य होते हैं। एक जगह टिककर बैठना इनके लिए संभव नहीं और एक ही जगह या परिस्थिति में जमकर कार्य करना इनके स्वभाव में ही नहीं है। इनके स्वभाव, आदत और विचारों के प्रति पक्के तौर पर कुछ नहीं कहा जा सकता है। खुश हो जाते हैं तो सब कुछ लुटा देते हैं और नाराज हो जाते हैं तो सब कुछ छीन लेते हैं। जीवन को जीने की इनकी विशिष्ठ शैली होती है। इनकी विशेष रुचियां, आदतें और कार्यपद्धति हैं, जिसमें किसी का हस्तक्षेप करना इनकी पंसद नहीं है। छोटा कार्य, छोटे विचार और छोटी योजना इन्हें पसंद नहीं है। इनका प्रत्येक कार्य बड़े पैमाने पर होता है और योजना भी भारी-भरकम, विस्तृत होती है। 

जितने उत्साह में कार्य प्रारम्भ होते हैं, उतना अंत तक नहीं बनाए रखते हैं, कार्य को बीच में ही छोड़ देते हैं और फिर कतई ध्यान नहीं देते, इसलिए इन पर सहज ही विश्वास नहीं किया जा सकता है। मित्रों के पक्के मित्र होते हैं, मित्रों के लिए ये सब कुछ देने को तैयार रहते हैं। 

दाम्पत्य जीवन में वे वफादार कम ही हो सकते हैं। तड़क-भड़क, शान शौकत दिखाकर इन्हें प्रदर्शन करना अच्छा लगता है। ये मंहगे वस्त्र, जूते पहनते हैं। सिर्फ दिखावे के फिजूलखर्ची करते हैं। ऐसे व्यक्ति कुशल एजैंट व व्यापारी सिद्ध होते हैं। यात्राएं इन्हें प्रिय होती हैं तथा इन्हें ऐसे ही कार्य पसंद होते हैं, जिनमें यात्राएं करना पड़ें। 

शुभ वार: बुधवार, बृहस्पतिवार और शनिवार।
शुभ मास: जनवरी, मार्च, मई और जुलाई। 
शुभ तारीखें: 5,10,14,19,23,25 व 28


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Jyoti

Related News

Recommended News