UPI ट्रांजैक्शन नवंबर में 17.4 लाख करोड़ रुपए के नए हाई पर, FASTag से भी जमकर हुआ लेनदेन

punjabkesari.in Friday, Dec 01, 2023 - 03:56 PM (IST)

बिजनेस डेस्कः भारत में डिजिटल पेमेंट महीने-दर-महीने नया आसमान छू रहा है। नेशनल पेमेंट कॉरपोरेशन ऑफ इंडिया (NPCI) के ताजा आंकड़ों के मुताबिक, नवंबर महीने में 17.4 लाख करोड़ रुपए के ट्रांजैक्शन्स किए गए और अब तक के सारे रिकॉर्ड टूट गए। अक्टूबर महीने में UPI के जरिए 17.16 लाख करोड़ रुपए के ट्रांजैक्शन्स किए गए थे। इस लिहाज से नवंबर महीने में अक्टूबर के मुकाबले 1.4 फीसदी ज्यादा ट्रांजैक्शन्स हुए।

ट्रांजैक्शन की संख्या में आई कमी

अगर UPI ट्रांजैक्शन्स की संख्या की बात की जाए तो अक्टूबर महीने में नवंबरमहीने के मुकाबले 1.5 फीसदी ज्यादा ट्रांजैक्शन्स हुए। अक्टूबर में 11.41 अरब ट्रांजैक्शन्स हुए, जबकि, नवंबर महीने में 11.24 ट्रांजैक्शन हुए।

सितंबर महीने में ट्रांजैक्शन्स की कुल संख्या 10.56 अरब थी और 15.8 लाख करोड़ रुपए के टपेमेंट्स किए गए। NPCI के आंकड़ों के मुताबिक, सितंबर महीने में वॉल्यूम टर्म के लिहाज से 54 फीसदी का इजाफा हुआ था, जबकि पिछले साल के इसी महीने यानी सितंबर 2022 में 46 फीसदी का इजाफा देखने को मिला था।

PunjabKesari

IMPS ट्रांजैक्शन की संख्या घटी

नवंबर में IMPS ट्रांजैक्शन की संख्या अक्टूबर के मुकाबले 4 फीसदी घटकर 47.2 करोड़ रह गई। अक्टूबर में यह 49.3 करोड़ और सितंबर में 47.3 करोड़ थी।

PunjabKesari

IMPS से कितने रुपए का ट्रांजैक्शन?

मूल्य के लिहाज से अगर IMPS ट्रांजैक्शन्स को देखा जाए तो नवंबर में 5.35 लाख करोड़ रुपए का ट्रांजैक्शन हुआ, जबकि अक्टूबर में 5.38 लाख करोड़ रुपए का ट्रांजैक्शन हुआ था। नवंबर 2022 की तुलना में इसमें मात्रा के लिहाज से 2 फीसदी और मूल्य के लिहाज से 18 फीसदी की बढ़ोतरी हुई। सितंबर 2023 में, IMPS के जरिये 5.07 लाख करोड़ रुपए के ट्रांजैक्शन हुए थे।

PunjabKesari

FASTag ट्रांजैक्शन बढ़े लेनदेन की रकम हुई कम

नवंबर में FASTag (फास्टैग) ट्रांजैक्शन अक्टूबर में 32 करोड़ के मुकाबले मामूली रूप से बढ़कर 32.1 करोड़ हो गया। मूल्य के लिहाज से बात करें तो नवंबर में FASTag लेनदेन 5,303 करोड़ रुपए देखा गया, जो अक्टूबर में 5,539 करोड़ रुपए से 4 फीसदी कम है। सितंबर 2023 में ट्रांजैक्शन की संख्या 299 करोड़ और रकम 5,089 करोड़ रुपए थी। नवंबर 2022 के मुकाबले संख्या में 12 प्रतिशत और मूल्य में 14 प्रतिशत की वृद्धि दर्ज की गई।
 


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

jyoti choudhary

Recommended News

Related News