भारत महामारी से उबरने के बाद सुधारों के बल पर उच्च वृद्धि दर के रास्ते पर लौटेगा: सुबमणियम

2020-09-16T13:50:17.447

चेन्नई: मुख्य आर्थिक सलाहकार (सीईए) कृष्णमूर्ति सुबमणियम ने मंगलवार को भरोसा जताया कि देश कोविड-19 महामारी से पार पाने के बाद सरकार के आर्थिक सुधारों के जरिये उच्च वृद्धि दर के रास्ते पर लौटेगा।

उद्योग मंडल सीआईआई की तमिलनाडु इकाई द्वारा आयोजित कनेक्ट- 2020 सम्मेलन में भाग लेते हुए उन्होंने कहा, ‘केंद्र सरकार द्वारा घोषित सुधारों का जब असर सामने आएगा, निश्चित रूप से हम उच्च वृद्धि के रास्ते पर होंगे।’ सुब्रमणियम ने कहा, ‘महामारी के समाप्त होने के बाद सुधारों एवं केंद्र सरकार के अन्य उपायों के जरिये भारत उच्च आर्थिक वृद्धि दर के रास्ते पर लौटेगा।’ उन्होंने कहा कि सीमेंट, इस्पात, रेलवे माल ढुलाई और सूचना एवं संचार प्रौद्योगिकी जैसे प्रमुख क्षेत्र पहली बार जुलाई 2019 से सकारात्मक दायरे में थे।

सीईए ने कहा अगर आप ‘परचेजिंग मैनेजर्स इंडेक्स’ (पीएमआई) देखें, विनिर्माण और सेवा दोनों पीएमआई में तीव्र वृद्धि हुई है। उन्होंने कहा लेकिन यह कहना कि पिछली 12 तिमाहियों से जीडीपी (सकल घरेलू उत्पाद) में गिरावट दर्ज की जा रही है, ‘गलत’ है।

इससे पहले, सुब्रमणियम ने कहा कि केंद्र राज्यों से श्रम कानूनों में सुधारों के लिये आग्रह कर रहा है। श्रम कानून राज्यों के दायरे में है और उनमें से कुछ कानून 100 साल से अधिक पुराने हैं। उन्होंने कहा कि कई पुराने श्रम कानूनों में वेतन और मजदूरी की परिभाषा अलग-अलग तरीके से की गयी हैं, इससे अनुपालन संबंधी समस्या होती है। सीईए ने कहा कि कई राज्य श्रम कानूनों में बदलाव की योजना बना रहे हैं।

 


Author

rajesh kumar

Related News