स्पाइसजेट के दो विमानों में चेतावनी लाइट जगमगाने की घटनाएं आईं सामने, डीजीसीए ने शुरू की जांच

punjabkesari.in Saturday, Jun 25, 2022 - 10:21 PM (IST)

नई दिल्लीः स्पाइसजेट के दो अलग-अलग विमानों में शुक्रवार और शनिवार को उड़ान भरने के दौरान ‘फ्यूसलेज' द्वार चेतावनी लाइट जगमगाने की घटनाएं सामने आने के बाद विमानन नियामक डीजीसीए ने जांच के आदेश दिए हैं। चेतावनी लाइट जलने के चलते विमानों को अपनी यात्रा पूरी किए बिना वापस लौटने को मजबूर होना पड़ा। डीजीसीए के अधिकारियों ने यह जानकारी दी। 

उन्होंने बताया कि पिछले एक सप्ताह के दौरान स्पाइसजेट की चार उड़ानों के दौरान ऐसी घटनाएं सामने आईं। उन्होंने बताया कि नागर विमानन महानिदेशालय (डीजीसीए) ने इन सभी चार घटनाओं की जांच शुरू की है। ‘फ्यूसलेज' विमान का मध्य भाग होता है, जहां यात्री और चालक दल के सदस्य बैठते हैं। 

हाल ही में स्पाइसजेट के विमान के इंजन में लगी थी आग
पटना हवाई अड्डे से 19 जून को दिल्ली के लिए उड़ान भरने के तत्काल बाद स्पाइसजेट के विमान के इंजन में आग लग गई थी और चंद मिनट बाद ही विमान को आपातकालीन तौर पर उतारा गया था। इस उड़ान में 185 यात्री सवार थे। पक्षी के टकरा जाने के कारण इंजन मं आग लग गई थी। अन्य घटना में 19 जून को ही जबलपुर के लिए रवाना हुई स्पाइसजेट की एक उड़ान को ‘‘केबिन में दबाव'' की दिक्कत के चलते दिल्ली वापस लौटना पड़ा था। 

अधिकारियों ने बताया कि शुक्रवार (24 जून) को गुवाहाटी से कोलकाता जाने वाली स्पाइसजेट की क्यू400 विमान की चेतावनी लाइट जगमगाने के बाद पायलट ने 5,000 फुट की ऊंचाई पर उड़ रहे विमान को वापस गुवाहाटी ले जाने का फैसला किया। 

उन्होंने बताया कि इसी तरह की घटना शनिवार (25 जून) को पटना से गुवाहाटी की उड़ान भरने वाले स्पाइसजेट के क्यू400 विमान में भी सामने आई। वहीं, शुक्रवार की घटना के संबंध में स्पाइसजेट ने कहा कि चेतावनी लाइट जगमगाने के बाद पायलट ने विमान को वापस गुवाहाटी ले जाने का निर्णय लिया और हवाई यातायात नियंत्रक के साथ समन्वय कर विमान को सुरक्षित गुवाहाटी में उतारा। 


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Pardeep

Related News

Recommended News