चिप आपूर्ति में सुधार और त्योहारी मांग से वाहनों की बिक्री ने पकड़ी रफ्तार

punjabkesari.in Sunday, Oct 02, 2022 - 10:24 AM (IST)

नई दिल्लीः त्योहारी मौसम में मांग बढ़ने और चिप आपूर्ति में सुधार आने से देश में घरेलू यात्री वाहन उद्योग की सितंबर की बिक्री में सालाना आधार पर बड़ा उछाल आया है। पिछले वर्ष सेमीकंडक्टर की कमी होने से वाहन आपूर्ति बुरी तरह प्रभावित हुई थी लेकिन इस वर्ष उद्योग की मासिक बिक्री सबसे अच्छी रही है। सितंबर में कुल 3,55,946 यात्री वाहनों की घरेलू बिक्री हुई जो एक साल पहले की तुलना में 91 फीसदी अधिक है। यही नहीं, दूसरी तिमाही की बिक्री भी 10 लाख के आंकड़े को पार कर गई। 

मारुति सुजुकी, हुंदै और टाटा मोटर्स जैसी अग्रणी वाहन कंपनियां चिप की कमी में सुधार होने से पिछले महीने डीलरों को अधिक आपूर्ति कर पाईं। देश की सबसे बड़ी कार विनिर्माता कंपनी मारुति सुजुकी इंडिया ने शनिवार को बताया कि सितंबर में उसकी घरेलू यात्री वाहनों की कुल बिक्री बढ़कर 1,48,380 इकाई रही जो सितंबर 2021 में 63,111 इकाई थी। मारुति सुजुकी ने एक बयान में कहा कि आल्टो और एस-प्रेसो जैसी छोटी कारों की बिक्री भी बढ़कर 29,574 इकाई हो गई जो एक साल पहले 14,936 इकाई थी। इसी तरह स्विफ्ट, सेलेरियो, इग्निस, बलेनो और डिजायर जैसी कॉम्पैक्ट कारों की बिक्री पिछले वर्ष सितंबर की 20,891 इकाई की तुलना में बढ़कर 72,176 इकाई हो गई। 

सितंबर में मारुति सुजुकी ने ब्रेजा, एस-क्रॉस और एर्टिगा जैसे यूटिलिटी वाहनों की बिक्री 18,459 इकाई से बढ़कर 32,574 इकाई हो गई। कंपनी के वरिष्ठ कार्यकारी निदेशक (विपणन एवं बिक्री) शशांक श्रीवास्तव ने कहा, ‘‘42 महीनों में कंपनी के लिए यह दूसरा सबसे अच्छा महीना रहा है। सर्वश्रेष्ठ महीना अक्टूबर 2020 था जब कंपनी ने घरेलू बाजार में 1,63,000 इकाई की आपूर्ति की थी।'' उन्होंने बताया कि पहली बार उद्योग ने एक तिमाही में दस लाख वाहनों की बिक्री की है। पहले छह महीने की थोक बिक्री भी उद्योग के लिए सबसे अच्छी रही है जिसमें 19.37 लाख वाहन बिके। 

टाटा मोटर्स ने बताया कि सितंबर में उसकी घरेलू स्तर पर कुल बिक्री 44 फीसदी बढ़कर 80,633 इकाई हो गई जो पिछले वर्ष समान महीने में 55,988 इकाई थी। पिछले महीने यात्री वाहनों की कुल घरेलू बिक्री 85 फीसदी बढ़कर 47,654 इकाई हो गई जो सितंबर 2021 में 25,730 इकाई थी। टाटा मोटर्स पैसेंजर वेहिकल के प्रबंध निदेशक शैलेश चंद्रा ने कहा कि नेक्सॉन और पंच की रिकॉर्ड बिक्री के बूते पिछले महीने 47,654 इकाई की बिक्री हुई जो किसी भी महीने में सर्वाधिक आंकड़ा है। हुंदै मोटर इंडिया की सितंबर में थोक बिक्री 38 फीसदी बढ़कर 63,201 इकाई रही। पिछले वर्ष सितंबर में कंपनी ने 45,791 इकाई की आपूर्ति की थी। 

कंपनी ने कहा कि उसकी घरेलू थोक बिक्री पिछले महीने 50 फीसदी बढ़कर 49,700 इकाई रही है जो सितंबर 2021 में 33,087 इकाई थी। कंपनी के निदेशक (विपणन, बिक्री और सेवा) तरूण गर्ग ने कहा, ‘‘भारतीय अर्थव्यवस्था ने बीती कुछ तिमाहियों में बढ़िया जुझारूपन दिखाया है और त्योहारी मौसम ने मांग को तेजी दी है।'' होंडा कार्स इंडिया ने बताया कि बीते महीने उसकी घरेलू थोक बिक्री 29 फीसदी बढ़कर 8,714 इकाई रही है जबकि एक साल पहले कंपनी ने 6,765 इकाइयों की आपूर्ति की थी। 

होंडा कार्स इंडिया के निदेशक (विपणन एवं बिक्री) युईची मुराता ने एक बयान में कहा, ‘‘त्योहारी मांग मजबूत और गतिशील बनी हुई है। आपूर्ति बढ़ाने में भी सफलता मिली है जो त्योहारों को देखते हुए एक और सकारात्मक बात है।'' इसी तरह, स्कोडा ऑटो इंडिया की बिक्री सितंबर में 17 फीसदी बढ़कर 3,543 इकाई हो गई जो पिछले वर्ष 3,027 इकाई थी। एमजी मोटर इंडिया की बिक्री 17 फीसदी बढ़कर 3,808 इकाई हो गई जो सितंबर 2021 में 3,241 इकाई थी। 

टोयोटा किर्लोस्कर मोटर की सितंबर में बिक्री 66 फीसदी बढ़कर 15,378 इकाई रही है। पिछले वर्ष सितंबर में यह आंकड़ा 9,284 इकाई था। इसके विपरित निसान मोटर इंडिया की थोक बिक्री सितंबर में 16.64 फीसदी घटकर 7,265 इकाई रह गई है। सितंबर 2021 में कंपनी ने 8,716 इकाइयों की आपूर्ति की थी।
 


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

jyoti choudhary

Related News

Recommended News