HDFC ने बढ़ाई FD पर ब्याज दरें, देखें अब कितना होगा फायदा

2021-04-02T10:53:09.187

बिजनेस डेस्कः होम लोन देने वाली कंपनी एचडीएफसी लि. ने विभिन्न सावध‍ि जमा योजनाओं (FD) के लिए ब्याज दर 0.25 फीसदी बढ़ा दी है। नई ब्याज दरें 30 मार्च से प्रभावी हो गई हैं। एचडीएफसी लि. ने यह कदम ऐसे समय उठाया है जब बैंक मियादी जमाओं पर ब्याज दरें कम कर रहे हैं। एचडीएफसी की वेबसाइट पर उपलब्ध सूचना के अनुसार 33 महीने की परिपक्वता अवधि वाले 2 करोड़ रुपए तक के मियादी जमा पर सालाना ब्याज दर 6.20 प्रतिशत होगी। वहीं 66 महीने के लिए मियादी जमा पर 6.60 प्रतिशत ब्याज मिलेगा। एचडीएफसी के अनुसार 99 महीने की मियादी जमा पर ब्याज दर को 6.65 प्रतिशत रखा गया है। 

आपको बता दें कि अक्टूबर 2018 के बाद बैंक ने ब्याज दरों में इजाफे का फैसला किया है। इसने 33 से 99 महीनों में मैच्योर होने वाली एफडी पर 10 से 25 बेसिस पॉइंट्स (0.10 फीसदी से 0.25 फीसदी) के बीच ब्याज दरें बढ़ाई हैं। इसके अलावा वरिष्ठ नागरिकों को अतिरिक्त लाभ मिलेगा।

जानिए ब्याज दरों में कितने फीसदी की हुई बढ़ोत्तरी

  • 33 महीने की परिपक्वता अवधि वाले 2 करोड़ रुपए तक के मियादी जमा पर सालाना ब्याज दर 6.20 फीसदी होगी।
  • 66 महीने के लिए मियादी जमा पर 6.60 फीसदी ब्याज मिलेगा।
  • 99 महीने की मियादी जमा पर ब्याज दर को 6.65 फीसदी रखा गया है।
  • इसी समय के लिए सीनियर सीटिजन को एफडी पर आम से 0.25 फीसदी अधिक ब्याज मिलेगा।

एफडी की खासियत
एफडी 12 महीने से लेकर 120 महीने तक की किसी भी अवधि की करा सकते हैं। इसके अलावा आवश्यकता के आधार पर मासिक, तिमाही, छमाही या वार्षिक पेमेंट ऑप्शन चुन सकते हैं। एचडीएफसी जैसी कंपनियों को रेटिंग मिलती है जितनी अधिक रेटिंग उतनी ही वे सुरक्षित होती है।

भारतीय प्रतिभूति और विनिमय बोर्ड, पंजीकृत निवेश सलाहकार निशीथ बलदेवदास ने कहा कि जो निवेशक केवल रिटर्न के लिए एफडी में निवेश करना चाहते हैं, वे इस प्रकार के एफडी में निवेश कर सकते हैं। एचडीएफसी लिमिटेड फिक्स्ड डिपॉजिट को छोड़कर कुछ हाई रेटेड कॉर्पोरेट एफडी भी हैं जो वर्तमान में बैंक एफडी और छोटी बचत योजनाओं की तुलना में ज्यादा रिटर्न प्रदान कर रहे हैं।
 


Content Writer

jyoti choudhary

सबसे ज्यादा पढ़े गए

Recommended News

static