FB और वॉट्सऐप को दिल्ली हाई कोर्ट से झटका, प्राइवेसी पॉलिसी पर राहत नहीं

2021-04-22T14:14:28.297

बिजनेस डेस्कः प्राइवेसी पॉलिसी को लेकर वॉट्सऐप और फेसबुक को दिल्ली हाई कोर्ट से तगड़ा झटका मिला है। कोर्ट ने गुरुवार को कॉम्पिटीशन कमीशन ऑफ इंडिया (CCI) के आदेश को चुनौती दे रही याचिका को खारिज कर दिया है। CCI ने वाट्सऐप के नए प्राइवेसी नियमों के खिलाफ जांच का आदेश दिया था जिसके खिलाफ फेसबुक वाट्सऐप ने दिल्ली हाईकोर्ट का रुख किया था।

यह भी पढ़ें- कारोना संक्रमण की नई लहर मई मध्य तक पहुंच सकती है अपने चरम पर: CEA

कोर्ट ने कहा कि फेसबुक और वाट्सऐप की याचिका में कोई आधार नहीं दिखता है कि कंपटीशन कमीशन ऑफ इंडिया (सीसीआई) के निर्देश पर रोक लगा दिया जाए।

यह भी पढ़ें- उद्योगपतियों ने कहा, कोविड की दूसरी लहर से निपटने को बेहतर तरीके से तैयार है उद्योग 

24 मार्च को सीसीआई ने दिया था आदेश
सीसीआई ने 24 मार्च को वाट्सऐप के नए प्राइवेसी नियमों के खिलाफ जांच का आदेश दिया था। प्रतिस्पर्धा आयोग के मुताबिक यूजर्स का डेटा वाट्सऐप फेसबुक की अन्य कंपनियों के साथ किस तरीके से साझा करेगा, यह पूरी तरह पारदर्शी नहीं है, इसके अलावा यह वालंटरी बेस्ड भी नहीं है और इसे लेकर यूजर्स से कोई स्पेशिफिक कंसेंट नहीं लिया जा रहा है। इन सब चिंताओं के चलते प्रतिस्पर्धा आयोग 60 दिनों के बाद एक कंक्लूजन पर पहुंचा और 24 मार्च को इसे लेकर जांच का आदेश दे दिया।

यह भी पढ़ें- दो महीनों में रतन टाटा ने किया दूसरा बड़ा निवेश, अब इस कंपनी पर लगाया दांव

फेसबुक वाट्सऐप की दलील, सुप्रीमकोर्ट में केस लंबित
सीसीआई द्वारा दिए गए आदेश के खिलाफ दिल्ली हाई कोर्ट में दाखिल अपनी याचिका में सोशल मीडिया साइट्स ने दलील दी थी कि यह मामला पहले से ही सुप्रीम कोर्ट और हाईकोर्ट में पेंडिंग है। ऐसे में फेसबुक वाट्सऐप का कहना था कि जब कोर्ट में पहले से ही मामला पेंडिंग है तो सीसीआई को इस पर जांच का आदेश नहीं देना चाहिए। हालांकि सीसीआई का कहना था कि उसके सामने जो मामला आया है, वह डेटा शेयरिंग, डेटा कलेक्शन और टार्गेटेड एडवरटाइजिंग से जुड़ा हुआ है।


Content Writer

jyoti choudhary

सबसे ज्यादा पढ़े गए

Recommended News

static