Video: अमरनाथ यात्रा पर जा रही बस खाई में गिरी, 16 की मौत

Sunday, July 16, 2017 2:46 PM

जम्मू: जम्मू-कश्मीर के रामबन जिले में जम्मू -श्रीनगर राष्ट्रीय राजमार्ग पर आज अमरनाथ यात्रियों को ले जा रही राज्य सड़क परिवहन निगम (एसआरटीसी) की बस के फिसलकर गहरी खाई में गिर जाने से कम से कम 16 श्रद्धालुओं की मौत हो गई और 40 अन्य घायल हो गए। पुलिस प्रवक्ता ने बताया कि एसआरटीसी की बस क्रमांक जेके 02वाई-0594 दोपहर के आसपास यात्रियों को लेकर अमरनाथ जा रही थी और रामबन में रामसू के समीप नचलाना के समीप एक गहरी खाई में गिर गई। हादसे में 16 श्रद्धालुओं की मौके पर ही मौत हो गई और 40 लोग घायल हुए हैं।

 

घायलों में 18 की हालत बहुत ही नाजुक है, जिन्हें हैलीकाप्टर के जरिए जम्मू भेजा गया है। मामूली रूप से घायल 8 लोगों को रामबन अस्पताल में भर्ती कराया गया है। पुलिस महानिरीक्षक (जम्मू रेंज) डा. एस डी सिंह ने संवाददाताओं को बताया कि एक प्रत्यक्षदर्शी के मुताबिक दुर्घटना उस समय हुई, जब बस का एक टायर फट गया और बस अनियंत्रित होकर खाई में गिर गई। बस में सवार श्रद्धालुओं में ज्यादातर बिहार और राजस्थान के थे। कोई भी यात्री लापता नहीं बताया जा रहा है। विस्तृत विवरण की प्रतीक्षा है।
PunjabKesari
पीएम मोदी ने कहा- इस घटना से बहुत दुखी हूं
इस हादसे के बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ट्वीट कर लिखा कि जम्मू-कश्मीर में बस हादसे के कारण अमरनाथ यात्रियों के मारे जाने को लेकर बहुत दुखी हूं। मैं मृत लोगों के परिवारों के प्रति अपनी संवेदना व्यक्त करता हूं। उन्होंने साथ ही कहा कि मैं जम्मू-कश्मीर में हुए बस हादसे में घायल हुए लोगों के जल्द स्वस्थ होने की कामना करता हूं।


गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने इस घटना पर शोक जताया और इस संबंध में राज्य की मुख्यमंत्री महबूबा मफ्ती से बातचीत की। सिंह ने ट्वीट करके कहा कि मुख्यमंत्री ने उन्हें वहां चल रहे बचाव कार्यों से अवगत कराया है। जम्मू में घायल अमरनाथ यात्रियों को इलाज के लिए दुर्घटना स्थल से विमान से निकाला जा रहा है। 
PunjabKesari
राहुल गांधी ने भी जताया शोक
कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने भी इस दुर्घटना पर शोक व्यक्त किया और पीड़ित परिवारों के सदस्यों के प्रति संवदेना व्यक्त की। गांधी ने ट्वीट किया कि अमरनाथ यात्रा पर गए श्रद्धालुओं की बस दुर्घटना के कारण आज हुई मौत खबर सुनकर दुखी हूं। मैं पीड़ित परिजनों के प्रति संवेदना व्यक्त करता हूं। 

 

 

 




विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में निःशुल्क रजिस्टर करें !