अमावस आज: 33 करोड़ देवी-देवताओं की पूजा का फल एक ही बार में करें प्राप्त

Wednesday, April 26, 2017 11:22 AM
अमावस आज: 33 करोड़ देवी-देवताओं की पूजा का फल एक ही बार में करें प्राप्त

वैशाख मास में स्नान, दान, हरिनाम संकीर्तन करने से जहां जीव के सभी प्रकार के पापों का नाश हो जाता है वहीं पितरों के निमित्त किए जाने वाले सभी कर्मों के लिए यह अमावस उचित एवं श्रेष्ठ फलदायक है। इस मास का धर्म ही सभी के लिए सुख साध्य है और यह सभी का उपकार करने वाला है। वैसे तो सूर्य के मेष राशि पर स्थित होने से इस मास की सभी तिथियां ही पुण्यदायिनी हैं और इन दिनों में किया गया कोई भी पुण्यकर्म करोड़ों गुना अधिक पुण्य फलदायक होता है परंतु इस मास की अमावस तिथि जहां मनुष्यों को मोक्ष प्रदान करने वाली है वहीं यह दिन पितृ कर्मों के लिए बढिय़ा है। 


इस बार यह अमावस 26 अप्रैल को है। अमावस पर किसी भी तीर्थ स्थल पर स्नान करना सभी के लिए उत्तम कर्म है। इस बार की अमावस बुधवार को है इसलिए गाय को हरा चारा, गुड़ आदि खिलाना शुभ एवं आसान कर्म है क्योंकि गाय को घास एवं चारा खिलाने से 33 करोड़ देवी-देवताओं की पूजा का फल एक ही बार में प्राप्त हो जाता है।

वीना जोशी
veenajoshi23@gmail.com



यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!