अप्रैल में व्यापार घाटा बढ़ा, एक्सपोर्ट में गिरावट

Tuesday, May 16, 2017 10:33 AM
अप्रैल में व्यापार घाटा बढ़ा, एक्सपोर्ट में गिरावट

नई दिल्ली : देश का निर्यात अप्रैल 2017 के दौरान 19.77 प्रतिशत बढ़कर 24.63 बिलियन डॉलर हो गया है। यह तेजी पैट्रोलियम, टैक्सटाइल्स और इंजीनियरिंग सामानों के निर्यात में तेज बढ़त के चलते दर्ज की गई है, वहीं अप्रैल के दौरान आयात भी 49.07 प्रतिशत बढ़कर 37.88 बिलियन डॉलर हो गया। निर्यात के अच्छे आंकड़े के बाद भी आयात में आई तेजी से भारत का अप्रैल के दौरान ट्रेड डैफिसिट (व्यापार घाटा) 13.24 बिलियन डॉलर पर पहुंच गया। वित्तवर्ष 2016-17 के दौरान निर्यात में 4.71 प्रतिशत की बढ़त दर्ज हुई है।

यह निर्यात 274.64 बिलियन डॉलर का रहा जो वित्त वर्ष 2015-16 के दौरान 262.3 बिलियन डॉलर था। सोने के आयात में अप्रैल 2017 में तीन गुना की तेजी दर्ज की गई। यह 1.23 बिलियन डॉलर से बढ़कर 3.85 बिलियन डॉलर पर पहुंच गया। यह जानकारी कॉमर्स मिनिस्ट्री की तरफ  से जारी जानकारी में दी गई है। 

आयात-निर्यात में तेज बढ़त, व्यापार घाटा अनुमान से ज्यादा
इस साल अप्रैल के दौरान आयात में तेज बढ़त दर्ज की गई है। डॉलर टर्म में 49.07 प्रतिशत और रुपए के टर्म में इसमें 44.67 प्रतिशत की बढ़त दर्ज की गई। डॉलर टर्म में आयात इस दौरान 3,788.42 करोड़ डॉलर का रहा जबकि रुपए के टर्म में यह आयात 2,44,380.52 करोड़ रुपए का रहा। इसके साथ ही अप्रैल में देश से 2,463.50 करोड़ डॉलर का निर्यात हुआ। पिछले साल अप्रैल में यह निर्यात 2,056.88 करोड़ डॉलर था। रुपए के टर्म में यह निर्यात 1,58,913.79 करोड़ रुपए का रहा जो पिछले साल अप्रैल में 1,36,720.11 करोड़ रुपए का था।

इस दौरान नॉन-पैट्रोलियम एंड नॉन-जैम्स एंड ज्वैलरी निर्यात अप्रैल के दौरान 1,771.88 करोड़ डॉलर का रहा। यह पिछले साल अप्रैल में 1,513.64 करोड़ डॉलर का था। इस प्रकार इसमें 17.06 प्रतिशत की बढ़त दर्ज की गई है। उधर निर्यात में अच्छी बढ़त के बाद भी आयात में अप्रैल में तेज बढ़त के चलते ट्रेड डैफिसिट (व्यापार घाटा) बढ़ा है। आलोच्य महीने में स्वर्ण आयात में तीव्र वृद्धि से व्यापार घाटा बढ़कर 13.24 अरब डॉलर हो गया जो एक साल पहले इसी महीने में 4.84 अरब डॉलर था। 
 



विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में निःशुल्क रजिस्टर करें !