एनएचएआई परिसंपत्ति मौद्रिकरण का 20,000 करोड़ रुपये का लक्ष्य पाने को लेकर आशावादी है: अध्यक्ष

punjabkesari.in Wednesday, May 18, 2022 - 02:20 PM (IST)

कोलकाता, 18 मई (भाषा) भारतीय राष्ट्रीय राजमार्ग प्राधिकरण (एनएचएआई) ने उम्मीद जताई है कि आर्थिक अनिश्चितताओं और भूराजनीतिक अस्थिरता के बावजूद चालू वित्त वर्ष में उसका परिसंपत्ति मौद्रिकरण का 20,000 करोड़ रुपये का लक्ष्य पूरा हो जाएगा।

एनएचएआई की एक शीर्ष अधिकारी ने कहा कि मौद्रिकरण की राशि एनएचएआई अवसंरचना निवेश न्यास या इनविट और टोल ऑपरेट ट्रांसफर या टीओटी के जरिए जुटाई जाएगी।

पिछले वित्त वर्ष में एनएचएआई ने पांच परियोजनाओं के लिए 8,000 करोड़ रुपये का मौद्रिकरण जुटाया था।

एनएचएआई की अध्यक्ष अल्का उपाध्याय ने कहा, ‘‘निवेशकों के बीच मजबूत मांग बनी हुई है ऐसे में चालू वित्त वर्ष में 20,000 करोड़ रुपये की परिसंपत्ति मौद्रिकरण योजना को लेकर हम आशावादी हैं।’’
उपाध्याय ने बताया कि भारतमाला परियोजना भारत में आज तक का सबसे बड़ा राजमार्ग अवसंरचना कार्यक्रम है जिसके तहत 5.35 लाख करोड़ रुपये के निवेश से 34,800 किलोमीटर के राष्ट्रीय राजमार्ग गलियारों का विकास किया जा रहा है।

उन्होंने कहा, ‘‘एनएचएआई 2025 तक 30,000-31,000 किलोमीटर के ठेके दे देगा।’’


यह आर्टिकल पंजाब केसरी टीम द्वारा संपादित नहीं है, इसे एजेंसी फीड से ऑटो-अपलोड किया गया है।

सबसे ज्यादा पढ़े गए

PTI News Agency

Related News

Recommended News