world water Day पर बोले PM मोदी- देश को पानी संकट से बचाने के लिए इसका संरक्षण जरूरी

2021-03-22T14:18:25.387

नेशनल डेस्क: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सोमवार को ‘‘जल शक्ति अभियान: कैच द रैन'' यानी वर्षा जल संचयन अभियान की शुरुआत की। इस दौरान पीएम मोदी ने कहा कि मुझे खुशी है कि जलशक्ति के प्रति जागरूकता बढ़ रही है और प्रयास भी बढ़ रहे हैं। आज पूरी दुनिया जल के महत्व को उजागर करने के लिए अंतरराष्ट्रीय जल दिवस मना रही है। पीएम मोदी ने कहा कि 21वीं सदी में पानी बेहद जरूरी है।

PunjabKesari

पीएम मोदी के संबोधन के प्रमुख अंश

  • पानी की हर एक बूंद कीमती है, इसके बिना जीवन अधूरा है।
  • आज भारत में पानी की समस्या के समाधान के लिए 'कैच द रैन' की शुरुआत के साथ ही केन बेतवा लिंक नहर के लिए भी बहुत बड़ा कदम उठाया गया है।
  • अटल जी ने उत्तर प्रदेश और मध्य प्रदेश के लाखों परिवारों के हित में जो सपना देखा था, उसे साकार करने के लिए ये समझौता अहम है।
  • भारत वर्षा जल का जितना बेहतर प्रबंधन करेगा उतना ही Groundwater पर देश की निर्भरता कम होगी। इसलिए ‘Catch the Rain’ जैसे अभियान चलाए जाने और सफल होने बहुत जरूरी हैं।
  • प्रधानमंत्री कृषि सिंचाई योजना हो या हर खेत को पानी अभियान, ‘Per Drop More Crop’ अभियान हो या नमामि गंगे मिशन, जल जीवन मिशन हो या अटल भूजल योजना, सभी पर तेजी से काम हो रहा है।
  • आज जब हम जब तेज विकास के लिए प्रयास कर रहे हैं, तो ये Water Security के बिना, प्रभावी Water Management के बिना संभव ही नहीं है।
  • भारत के विकास का विजन, भारत की आत्मनिर्भरता का विजन, हमारे जल स्रोतों पर निर्भर है, हमारी Water Connectivity पर निर्भर है।
  • PunjabKesari

‘जल शक्ति अभियान: कैच द रैन'' कार्यक्रम के तहत वर्षा जल संचयन अभियान देश भर में ग्रामीण और शहरी क्षेत्रों में चलाया जाएगा और इसका नारा होगा ‘‘जहां भी गिरे और जब भी गिरे, वर्षा का पानी इकट्ठा करें''। इस अभियान को 22 मार्च से 30 नवबंर तक लागू किया जाएगा। प्रधानमंत्री द्वारा अभियान की शुरुआत करने के बाद चुनावी राज्यों व केंद्र शासित प्रदेशों को छोड़कर सभी राज्यों के सभी जिलों की ग्राम पंचायतों की सभी ग्राम सभाओं की बैठक होगी और वर्षा जल संचयन के बारे में चर्चा होगी।

PunjabKesari

ग्राम सभाओं की ओर से जल शपथ कार्यक्रम का भी आयोजन किया जाएगा। वहीं जल विश्व दिवस पर केंद्रीय जल शक्ति मंत्री गजेन्द्र सिंह शेखावत और मध्‍य प्रदेश तथा उत्‍तर प्रदेश के मुख्‍यमंत्रियों के बीच केन-बेतवा संपर्क परियोजना क्रियान्वित करने संबंधी समझौता-ज्ञापन पर भी हस्‍ताक्षर किए गए।

PunjabKesari


Content Writer

Seema Sharma

सबसे ज्यादा पढ़े गए

Recommended News

static