Whatsapp की नई प्राइवेट पॉलिसी को दिल्ली हाईकोर्ट में चुनौती, तुरंत रोक लगाने की मांग

2021-01-14T18:05:19.07

बिजनेस डेस्कः Whatsapp की नई प्राइवेट पॉलिसी को नई दिल्ली हाई कोर्ट में चुनौती दी गई है। हाईकोर्ट में दायर याचिका में कहा गया है कि नई पॉलिसी के तहत कंपनी को यह अधिकार है कि वह किसी भी व्यक्ति की वर्चुअल तौर पर कोई भी गतिविधि देख सके। याचिका में कोर्ट से मांग की गई है कि नई प्राइवेट पॉलिसी पर तत्काल प्रभाव से रोक लगाई जाए।

कोर्ट में दाखिल याचिका में यह भी कहा गया है कि यह किसी व्यक्ति के राइट टू प्राइवेसी के अधिकार का उल्लंघन है। यह याचिका वकील चैतन्या राहिल्ला की ओर से लगाई गई है, जिसमें कहा गया है कि Whatsapp और Facebook जैसी कंपनियां पहले की गैरकानूनी तरीके से आम लोगों का डाटा तीसरी पार्टी को शेयर कर रही हैं। ऐसे में Whatsapp की नई प्राइवेट पॉलिसी बिना सरकार की इजाजत के बनाई गई है।

इस याचिका में कोर्ट से मांग की गई है कि Whatsapp की नई प्राइवेट पॉलिसी पर तुरंत प्रभाव से रोक लगाई जाए और उसके साथ भारत सरकार Whatsapp के इस्तेमाल और लोगों को राइट टू प्राइवेसी को ध्यान में रखते हुए गाइडलाइंस जारी करे।


Yaspal

Recommended News