दुर्भावनापूर्ण प्रचार करने वाले दल को बंगाल की खाड़ी में फेंक दें: केसीआर

punjabkesari.in Sunday, Jun 04, 2023 - 10:37 PM (IST)

नेशनल डेस्क: भारत राष्ट्र समिति (बीआरएस) प्रमुख व तेलंगाना के मुख्यमंत्री के चंद्रशेखर राव ने रविवार को लोगों से आह्वान किया कि वे तेलंगाना को लेकर हंगामा करने वाली पाटिर्यों का बहिष्कार करें, उन्हें बंगाल की खाड़ी में फेंक दें, और आगामी चुनावों में बीआरएस में फिर से विश्वास जताएं। केसीआर ने जिला पार्टी कार्यालय का उद्घाटन करने के बाद निर्मल में एक विशाल जनसभा को संबोधित करते हुए यह बात कही। उन्होंने जोर देकर कहा कि कुछ पाटिर्यां जनहितैषी बीआरएस पर निराधार आरोप लगाकर जनता का ध्यान खींचने की कोशिश कर रही हैं और वे लोकलुभावन योजनाओं के विषय में दुर्भावनापूर्ण प्रचार कर रहे हैं।

उनका कहना है कि सत्ता में आने पर वे धरणी पोटर्ल को बंद कर देंगे और बीआरएस सरकार की नीतियों पर अपमानजनक तरीके से टिप्पणी करेंगे। हम जनता के लिए हैं और हमने लोगों के कल्याण के लिए धरणी और अन्य सुधार नीतियों की शुरुआत की। मुख्यमंत्री ने कांग्रेस की आलोचना की और कहा कि भ्रष्टाचार के पर्याय को दूर रखना चाहिए। बीआरएस सरकार द्वारा लागू किए गए प्रयासों और विकास कार्यक्रमों के विषय में मुख्यमंत्री ने कहा कि पार्टी की प्रतिबद्धता तब तक जारी रहेगी जब तक चौतरफा विकास हर दरवाजे तक नहीं पहुंच जाता।

मुख्यमंत्री के संबोधन ने जनसभा में जनता को आकर्षित किया। आदिलाबाद जिले के कई हिस्सों से लोग बड़ी संख्या में कार्यक्रम स्थल पर पहुंचे। बीआरएस प्रमुख ने पिछले नौ वर्षों के दौरान हासिल किए गए विकास का विवरण देते हुए कहा कि वर्तमान कार्यकाल के दौरान पिछड़े आसिफाबाद में एक मेडिकल कॉलेज भी है। तालियों की गड़गड़ाहट के बीच उन्होंने जोर देकर कहा कि तेलंगाना का नया राज्य इन सभी को दरवाजे पर ले आया है। उन्होंने कहा, नौ साल के विकास को जारी रखा जाएगा।

मुख्यमंत्री ने रविवार को राज्य की आधिकारिक मशीनरी से वर्तमान उपलब्धियों पर संतुष्ट हुए बिना विकास मिशन को आगे बढ़ाने का आह्वान किया। कोई 56 करोड़ रुपये की लागत से निर्मल जिले के नए एकीकृत जिला समाहरणालय परिसर के औपचारिक उद्घाटन के बाद अधिकारियों को संबोधित करते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि 24 तारीख को जिले में पोडू भूमि वितरण प्रक्रिया शुरू होगी। उन्होंने जिला कलेक्टर को कार्यक्रम को भव्य रूप से सफल बनाने की सलाह दी ताकि बैंक खातों से भूमि को संबद्ध किया जा सके तथा इसे रायथु बंधु योजना से जोड़कर वितरण प्रक्रिया को आगे बढ़ाया जा सके।


सबसे ज्यादा पढ़े गए

News Editor

Parveen Kumar

Related News

Recommended News