मिल्खा सिंह के निधन से शोक में डूबा खेल जगत, सोशल मीडिया पर लोग कर रहे दुख व्यक्त

2021-06-19T18:55:58.867

नेशनल डेस्क: भारत के महान फर्राटा धावक मिल्खा सिंह के निधन पर खेल जगत शोक में डूब गया है और सोशल मीडिया पर उन्हें श्रृद्धांजलि देने का सिलसिला जारी है। मिल्खा का कोरोना महामारी से एक महीने तक जूझने के बाद चंडीगढ के एक अस्पताल में कल देर रात निधन हो गया था। भारत के पूर्व क्रिकेट कप्तान सौरव गांगुली से लेकर महान फर्राटा धाविका पी टी उषा तक सभी ने सोशल मीडिया पर उन्हें भावभीनी श्रृद्धांजलि दी।

पी टी उषा : मेरे आदर्श और प्रेरक मिल्खा सिंह जी के निधन के बाद दुख के काले बादल छा गए हैं। जुझारूपन और कड़ी मेहनत की उनकी कहानी ने लाखों को प्रेरित किया और आगे भी करती रहेगी। उषा स्कूल के छात्रों की ओर से उन्हें श्रृद्धांजलि।

सौरव गांगुली : इस खबर से बहुत आहत हूं। आरआईपी, भारत के महानतम खिलाड़ियों में से एक। आपने युवा भारतीयों को एथलीट बनने के सपने दिये। आपको करीब से जानने का सौभाग्य मुझे मिला।

एम सी मैरीकॉम : हमारे राष्ट्रीय नायक और लीजैंड श्री मिल्खा सिंह जी के निधन से दुखी हूं । शोक संतप्त परिवार को मेरी हार्दिक संवेदनायें। आरआईपी मिल्खा सिंह।

शुभंकर शर्मा : मिल्खा अंकल नहीं रहे। विश्वास ही नहीं होता। चंडीगढ अब पहले जैसा नहीं रहेगा। अपने जीवन के विभिन्न मोड़ पर उनसे मिलने और प्रेरित होने का सौभाग्य मिला। हर बार उनसे एक नयी सीख मिली। उनका व्यक्तित्व ही ऐसा था । हिमा दास : विश्व चैम्पियनशिप अंडर 20 खिताब और एशियाई खेलों में पदक जीतने के बाद मुझे मिल्खा सर ने फोन किया था । उन्होंने कहा था कि हिमा मेहनत करती रहो, तुम्हारे पास समय है और तुम विश्व स्तर पर भारत के लिये पदक जीत सकती हो । आपका सपना पूरा करने की कोशिश करूंगी सर।

जसप्रीत बुमराह : एक नायक, एक प्रेरणा, एक लीजैंड। वह आने वाली पीढियों को प्रेरित करते रहेंगे। आरआईपी मिल्खा सिंह सर।

ऋषभ पंत : भारत एक महानायक और प्रेरणा के स्रोत को विदा दे रहा है। आप आने वाली पीढी के खिलाड़ियों को प्रेरित करते रहेंगे।

वीरेंद्र सहवाग : महान व्यक्ति मिल्खा सिंह जी का शरीर हमारे बीच नहीं रहा लेकिन मिल्खा नाम हमेशा हौसले और इच्छाशक्ति का परिचायक रहेगा। क्या शानदार इंसान थे। उनके परिवार को मेरी संवेदनायें। ओम शांति

शिखर धवन : आरआईपी मिल्खा सिंह जी। आपने ऐसी विरासत छोड़ी है जो भारतीय खिलाड़ियों की पीढियों को प्रेरित करेगी।

युवराज सिंह : मिल्खा सिंह जी के निधन की खबर से दिल टूट गया है। उनकी जिंदगी और उपलब्धियां लाखों को प्रेरित करेंगी और इन यादों में वह अमर रहेंगे। जीव और परिवार के प्रति मेरी संवेदनायें।

वीवीएस लक्ष्मण : लीजैंड मिल्खा सिंह जी के निधन से दुखी हूं। उनकी विरासत पीढी दर पीढी अमर रहेगी। परिवार और प्रशंसकों को मेरी सांत्वना।

हार्दिक पंड्या : आरआईपी मिल्खा सिंह सर। सच्चे महान एथलीट और प्रेरणादायक। आपने दुनिया को दिखाया कि इतनी परेशानियों के बावजूद आप कुछ भी हासिल कर सकते हो। उनके मित्रों और परिवार को संवेदनायें।

पंकज आडवाणी : चैम्पियन मिल्खा सिंह के निधन की खबर सुनना दुखद। परिवार को संवेदनायें। आरआईपी।

इरफान पठान : हमेशा देश के लिये प्रेरणास्रोत। आरआईपी मिल्खा सिंह।

वेंकटेश प्रसाद : मिल्खा सिंह जी ने अपने धैर्य, दृढ़ संकल्प, कड़ी मेहनत और अपार प्रतिभा से जो हासिल किया, वह हमेशा भारतीय खेल लोकगाथाओं का हिस्सा बना रहेगा। उनके परिवार को मेरी संवेदनायें। ओम शांति।

युजवेंद्र चहल : खेलों में काफी सारे महान खिलाड़ी हैं और एक तरफ मिल्खा सिंह जी, जो भारत में किसी के लिये भी खेलों में सफलता हासिल करने के लिये बाधाओं से निपटने की प्रेरणादायक कहानी है। सलाम। आरआईपी मिल्खा सिंह।

दिनेश कार्तिक : भारत के महानतम एथलीटों में से एक मिल्खा सिंह जी के निधन की खबर सुनकर दुखी हूं। भगवान उनकी आत्मा को शांति दे।


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Editor

Hitesh

Recommended News