केरल , कर्नाटक के बाद तमिलनाडु में भी लॉकडाउन का ऐलान, 10 से 24 मई तक सब बंद

05/08/2021 9:22:29 AM

नेशनल डेस्क: कोरोना के बढ़ते प्रकाेप को रोकने के लिए देश के कई राज्य सख्त पाबंदियां लगा रहे हैं। इसी कड़ी में तमिलनाडु सरकार ने भी राज्य में 10 मई से दो हफ्ते का लॉकडाउन लगाने की घोषणा कर दी है।  PMK के संस्थापक एस रामदास ने  तमिलनाडु सरकार से कोरोना के प्रसार को नियंत्रित करने के लिए पूरे राज्य में लॉकडाउन लगाने का आग्रह किया था। 

PunjabKesari

सरकार से कहा गया था कि राज्य में पूर्ण लॉकडाउन लगाना जरूरी है नहीं तो कोरोना वायरस का प्रसार नहीं रोका जा सकेगा। पूर्ण लॉकडाउन लागू करने के साथ ही लोगों को किसी तरह की परेशानी ना हो इसके लिए हर परिवार को 5000 रुपये देने की भी नसीहत दी गई थी। वहीं इससे पहले  तमिलनाडु में चिकित्सीय ऑक्सीजन की उपलब्धता के 'गंभीर संकट' को खत्म करने को लेकर मुख्यमंत्री एम के स्टालिन ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से हस्तक्षेप का आग्रह किया। 

PunjabKesari

स्टालिन ने चेन्नई के नजदीक एक सरकारी अस्पताल में इस हफ्ते कथित तौर पर ऑक्सीजन की कमी के चलते 13 लोगों की मौत का उल्लेख करते हुए कहा था कि इस गैस की उपलब्धता की स्थिति 'बहुत ही गंभीर' है। मुख्यमंत्री का पदभार संभालने के बाद मोदी के साथ अपने पहले आधिकारिक संवाद में स्टालिन ने कहा ' ऐसे में जबकि राज्य महामारी को नियंत्रित करने के लिए अनेक कदम उठा रहा है, मैं तमिलनाडु में चिकित्सीय ऑक्सीजन के गंभीर संकट की ओर आपका तत्काल ध्यान आकर्षित करना चाहता हूं। '

PunjabKesari

मोदी को लिखे पत्र में सीएम ने  कहा कि तमिलनाडु में चिकित्सीय ऑक्सीजन की दैनिक खपत करीब 440 मीट्रिक टन है और इसके अगले दो हफ्ते में बढ़कर 840 मीट्रिक टन हो जाने की संभावना है, लेकिन राष्ट्रीय ऑक्सीजन योजना में राज्य को इसका आवंटन 220 मीट्रिक टन है जोकि 'असंगत' है। स्टालिन ने संकट की इस घड़ी में तमिलनाडु को पूर्ण सहयोग प्रदान करने के लिए प्रधानमंत्री से इस मामले में दखल देने का आग्रह किया है।


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

vasudha

Recommended News