स्टालिन का विदेश मंत्री जयशंकर से आग्रह, श्रीलंका में गिरफ्तार 12 मछुआरों की रिहाई वास्ते करें पहल

punjabkesari.in Friday, Apr 15, 2022 - 10:12 PM (IST)

चेन्नईः तमिलनाडु के मुख्यमंत्री एम के स्टालिन ने शुक्रवार को विदेश मंत्री डॉ. एस जयशंकर से श्रीलंकाई नौसेना द्वारा गिरफ्तार किए गए तमिलनाडु के 12 गरीब मछुआरों को कानूनी सहायता सुनिश्चित करने का आग्रह किया। 

स्टालिन ने विदेश मंत्री को लिखे अर्ध सरकारी पत्र में कहा है कि 23 मार्च को 11 मछुआरों को श्रीलंकाई नौसेना ने गिरफ्तार कर लिया था और इस मामले की सुनवाई करने वाली किलिनोच्ची अदालत ने सुनवाई पर 12 मई तक रोक दी है। न्यायालय ने कहा था कि जमानत तभी मंजूर होगी, जब प्रति मछुआरे दो करोड़ श्रीलंकन रुपए मुचलके के तौर पर जमा कराई जाएगी। 

भुगतान करने में असक्षम मछुआरे, जाफना जेल में हैं बंद
मुख्यमंत्री ने कहा, ‘‘मछुआरे जमानत पर रिहा होने के लिए प्रति मछुआरा दो करोड़ श्रीलंकन रुपए की राशि का भुगतान करने में असक्षम हैं। वे वर्तमान में जाफना जेल में बंद हैं।'' उन्होंने इस संबंध में विदेश मंत्री से तत्काल हस्तक्षेप की मांग की। श्री स्टालिन ने डॉ जयशंकर से गरीब मछुआरों की जल्द रिहाई के लिए सभी कानूनी सहायता और मदद सुनिश्चित करने का अनुरोध किया। 

मुख्यमंत्री ने कहा कि 31 मार्च को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के साथ बातचीत के दौरान उन्होंने कहा था कि तमिलनाडु सरकार श्रीलंका में आर्थिक संकट से जूझ रहे श्रीलंकाई तमिलों को आवश्यक वस्तुएं और जीवन रक्षक दवाएं उपलब्ध कराने को तैयार है। 


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Pardeep

Related News

Recommended News