जम्मू कश्मीर में अब भी आतंकवादियों को ऑक्सीजन दे रहे अलगाववादी तत्व: डीजी पुलिस

punjabkesari.in Thursday, Aug 12, 2021 - 11:46 AM (IST)


जम्मू : जम्मू कश्मीर के पुलिस महानिदेशक दिलबाग सिंह ने बुधवार को कहा कि आतंकवादियों के समर्थक अलगाववादियों की सैकड़ों संपत्तियां जब्त की गई हैं और ऐसे तत्व अब भी केंद्र शासित प्रदेश में आतंकी संगठनों को ऑक्सीजन दे रहे हैं।  सिंह ने चेतावनी दी है कि आतंकवादियों के समर्थकों को छोड़ा नहीं जाएगा। डीजीपी ने किश्तवाड़ जिले का दौरा कर स्वतंत्रता दिवस से पहले सुरक्षा स्थिति का जायजा लिया। इस दौरान सिंह ने मीडिया से कहा कि जम्मू कश्मीर के 14 जिलों में जमात ए इस्लामी के सदस्यों पर हाल में राष्ट्रीय अन्वेषण अभिकरण (एनआईए) की छापेमारी सफल हुई थी।

 

पुलिस महानिदेशक ने कहा, "जमात, हुर्रियत और अन्य अलगाववादी तत्व जम्मू कश्मीर में बेहद सक्रिय रहे हैं। वास्तव में वह लम्बे समय तक आतंक की मशीनरी को चलाने के लिए जिम्मेदार हैं। वह अब भी कुछ गतिविधियों में शामिल हैं जिससे आतंकी संगठनों को ऑक्सीजन मिल सके और जम्मू कश्मीर में आतंक के ढांचे को सहारा दिया जा सके।"

 

उन्होंने कहा कि पुलिस और अन्य सुरक्षा बल ऐसे सभी तत्वों पर नजर रखे हुए हैं और एनआईए ने पुलिस के साथ समन्वय कर इस संबंध में कई स्थानों पर बड़ी संख्या में छापेमारी की। पीपुल्स डेमोक्रेटिक पार्टी (पीडीपी) की अध्यक्ष और पूर्व मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती ने एनआईए की छापेमारी को केंद्र द्वारा अपने ही पाले में किया गया गोल करार दिया था।

 

इस बाबत सवाल पूछे जाने पर सिंह ने कहा, "च्च्कुछ लोगों द्वारा दिए गए गैर जिम्मेदाराना बयान का यह मतलब नहीं है कि पुलिस और अन्य सुरक्षा एजेंसियां लोगों को परेशान करने के लिए हैं।" उन्होंने कहा, "हम असल में वहां लोगों की सहायता करने और बेहतर सुरक्षा वातावरण बनाने के लिए हैं लेकिन जो आतंकवाद का समर्थन कर रहे हैं उन्हें छोड़ा नहीं जाएगा।"

जमात ए इस्लामी के सदस्यों की संपत्ति जब्त करने के सवाल पर डीजीपी ने कहा कि यह पहले ही हो चुका है क्योंकि जमात पर प्रतिबंध लगने के बाद बड़ी संख्या में संपत्ति जब्त की गई थी।


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Monika Jamwal

Related News

Recommended News