दो दिवसीय दौरे पर सिक्किम पहुंची राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू, महिलाओं के साथ स्टेज पर मिलाई कदम-ताल

punjabkesari.in Friday, Nov 04, 2022 - 09:39 PM (IST)

नेशनल डेस्कः राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू दो दिवसीय दौरे पर शुक्रवार को सिक्किम पहुंची। एक कार्यक्रम के दौरान राष्ट्रपति मुर्मू स्थानीय लोगों के साथ कदम-ताल मिलाती नजर आईं। दरअसल, सिक्किम में राष्ट्रपति के स्वागत में एक नृत्य आयोजित किया गया। इसी दौरान द्रौपदी मुर्मू महिलाओं के साथ स्टेज पर थिरकती नजर आईं। राष्ट्रपति भवन की ओर से इसका वीडियो भी जारी किया गया है।


इसके बाद राष्ट्रपति मुर्मू ने एक कार्यक्रम को भी संबोधित किया। उन्होंने कहा कि स्थानीय भाषा में लोगों का स्वागत करते हुए कहा खाम्‍री!  टासी डिलेक! नमस्कार! आज आप सबके बीच यहां सिक्किम में आकर मुझे बहुत प्रसन्नता हो रही है।  एक माह से कम समय में पूर्वोत्‍तर की यह मेरी दूसरी यात्रा है। आप सबके स्‍नेह और अभिनंदन से, मैं अभिभूत हूं, और आज के स्वागत के लिए मैं हृदय से आप सबका आभार व्‍यक्‍त करती हूं। उन्होंने कहा कि पूर्वी हिमालय क्षेत्र में स्थित सिक्किम भारत के सबसे सुंदर प्रदेशों में से एक है। विश्‍व के तीन सबसे ऊंची चोटियों में से एक कंचनजंगा यहीं पर हैं, जिसे इस क्षेत्र की देवी के रूप में पूजा जाता है। मैं देवी को प्रणाम करते हुए सिक्किम की जनता की प्रगति और खुशहाली की कामना करती हूं।

मुर्मू ने कहा कि सिक्किम की एक समृद्ध सांस्कृतिक विरासत है जिसमें विभिन्‍न समुदायों की संस्कृतियों की झलक देखने को मिलती है। सिक्किम ने संस्कृति, सिनेमा, साहित्य तथा खेल जगत में राष्ट्रीय स्तर की अनेक प्रतिभाएं दी है। मुझे यह जानकर खुशी हुई है कि 80 प्रतिशत से अधिक की साक्षरता दर के साथ शिक्षा की दृष्टि से सिक्किम देश के अग्रणी राज्यों में से एक है। मुझे बताया गया है कि उच्‍च शिक्षा के enrolment में, सिक्किम देश में प्रथम स्थान पर है।

राष्ट्रपति ने कहा कि मुझे यह जानकर ख़ुशी हुई है कि सिक्किम में लड़कों की तुलना में, लड़कियों का नामांकन अधिक है। डॉक्टर बाबासाहेब आंबेडकर ने कहा था कि एक समाज का समुचित विकास तभी माना जाएगा जब उसमें महिलाएं सशक्त और समृद्ध होंगी। यह शिक्षा के प्रति सिक्किम के लोगों की प्राथमिकता को दर्शाता है। आज मुझे रंग्पो में अटल सेतु और Chisopani Traffic Tunnel का उद्घाटन करके प्रसन्‍नता हुई है।

मुर्मू ने कहा कि लगभग एक किलोमीटर की लम्बाई वाला अटल सेतु, सिक्किम का सबसे बड़ा सेतु है। इस सेतु का नामकरण, पूर्व प्रधानमंत्री भारत रत्न  अटल बिहारी वाजपेयी जी के नाम पर करना सर्वथा सार्थक है। सिक्किम ने जैविक खेती का एक मॉडल बनकर देश के सभी राज्‍यों के लिए एक उदाहरण प्रस्‍तुत किया है। सिक्किम को देश का पहला organic state होने का दर्जा प्राप्त है। सिक्किम ने plastics, pesticides और chemicals के उपयोग को बैन करके पर्यावरण अनुकूल विकास के नए मापदंड स्थापित किये है।

 

 


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Yaspal

Related News

Recommended News