पीएम जॉनसन ने वडोदरा में बुलडोजर बनाने वाली JCB की नई यूनिट का किया उद्घाटन

punjabkesari.in Thursday, Apr 21, 2022 - 05:05 PM (IST)

नेशनल डेस्कः ब्रिटेन के प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन आज से दो दिवसीय भारत दौरे पर हैं। ब्रिटिश पीएम बोरिस जॉनसन ने गुजरात के वडोदरा के हलोल में जेसीबी कंपनी की नई यूनिट का उद्घाटन किया। इस यूनिट में बुलडोजर समेत कंस्ट्रक्शन क्षेत्र के दूसरे उपकरण बनाए जाएंगे। ब्रिटिश मूल की कंपनी जेसीबी का भारत में ये छठा प्लांट है। प्लांट को बनाने में 650 करोड़ रुपए की लागत आई है।

जॉनसन ने यहां भारतीय उद्योगपति गौतम अडानी से मुलाकात की। ब्रिटिश प्रधानमंत्री ने रक्षा और एयरोस्पेस प्रौद्योगिकियों में यूके की कंपनियों के सहयोग की बात कही। इससे पहले ब्रिटिश PM ने साबरमती आश्रम पहुंचकर बापू के चित्र पर माल्यार्पण किया। उसके बाद चरखा चलाकर सूत काता। यहां की विजिटर बुक में उन्होंने लिखा- "इस असाधारण व्यक्ति के आश्रम मेआना एक बहुत बड़ा सौभाग्य है। यह समझने के लिए कि कैसे उन्होंने सच्चाई और अहिंसा के ऐसे सरल सिद्धांतों को बेहतर बनाने के लिए दुनिया को बदलने के लिए प्रेरित किया।"

उनके साथ गुजरात के मुख्यमंत्री भूपेंद्र पटेल भी रहे। यहां उन्हें महात्मा गांधी की शिष्या मेडेलीन स्लेड उर्फ मीराबेन की ऑटोबायोग्राफी 'द स्पिरिट्स पिलग्रिमेज' साबरमती आश्रम के तरफ से गिफ्ट दी गई। यह किताब महात्मा गांधी की दो किताबों में से एक है, जो कभी पब्लिश नहीं हुई। इससे पहले अहमदाबाद पहुंचने पर उनका भव्य स्वागत हुआ।

यह पहला मौका है कि ब्रिटिश प्रधानमंत्री गुजरात का दौरा कर रहे हैं। गुजरात में ब्रिटिश PM जॉइंट ट्रेड के कई महत्वपूर्ण निवेश प्रस्तावों की घोषणा करेंगे। भारत और ब्रिटेन दोनों ही फ्री ट्रेड एग्रीमेंट को लेकर सकारात्मक रुख दिखा रहे हैं। उम्मीद की जा रही है कि जॉनसन की इस विजिट से इस तरफ अहम प्रगति होगी। ब्रिटेन, भारत के साथ सालाना कारोबार को 2.89 लाख करोड़ तक ले जाने का इच्छुक है।

साइबर सिक्योरिटी को लेकर भी बड़ी पहल होगी
जॉनसन के दौरे में दोनों देशों के बीच साइबर सिक्योरिटी का बड़ा तंत्र विकसित किया जाएगा। दोनों देश एक संयुक्त साइबर सिक्योरिटी प्रोग्राम शुरू करेंगे। इसके तहत भारत और ब्रिटेन साइबर क्रिमिनल्स और रैनसम वेयर के हमलों से मिलकर निपटेंगे। इसके अलावा पहला सामरिक टैक डायलॉग भी शुरू होगा। जापान, दक्षिण कोरिया, ऑस्ट्रेलिया और कनाडा के बाद भारत पांचवा देश है, जिसके साथ ब्रिटेन व्यापक सामरिक समझौता करने जा रहा है।


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Yaspal

Related News

Recommended News