See More

प्राइवेट स्कूलों की मनमानियों के खिलाफ पेरेंटस ने खोला मोर्चा, शुरू की भूख हड़ताल

2020-06-29T14:02:54.69

जम्मू: प्राइवेट स्कूलों की मनमानी लूट-खसूट से अब अविभावक तंग आ गये हैं। सोमवार को अविभावकों ने जम्मू के प्रदर्शनी मैदान के बाहर भूख हड़ताल शुरू कर दी। उनका आरोप है कि लाॅकडाउन के कारण बच्चों की पढ़ाई बुरी तरह से प्रभावित है पर स्कूल धड़ल्ले से फीस व अन्य चार्जस को लेकर उन्हें परेशान कर रहे हैं। पेरेंटस ने शिक्षा विभाग के खिलाफ भी नारेबाजी की। उन्होंने पिछले पांच साल का आडिट सार्वजनिक करने की मांग की है।


आॅल पेरेंटस एसोसिएशन जम्मू के बैनर तले पेरेंटस ने क्रमिक भूख हड़ताल शुरू कर दी। उन्होंने कहा कि मीडिया भी लगातार स्कूलों की लूटखसूट दिखाा रहा है पर उसके बाद भी शिक्षा विभाग और सरकार प्राइवेट स्कूलों की नाक में नकेल नहीं डाल रही है। सिर्फ यही नहीं बल्कि उन्होंने कहा कि यह अटैचियों के रिश्ते हैं और यही कारण है कि शिक्षा का स्तर गिरता जा रहा है और प्राइवेट स्कूलों के महल बनते जा रहे हैं। 


एसोसिएशन के प्रधान कपूर ने कहा कि पेरेंटस टीचरों की सैलरी हेतु 20 प्रतिशत तक फीस देने को तैयार हैं पर स्कूल पूरी फीस की मांग कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि टीचर स्कूलों पर निर्भर हैं और पेरेंटस इस बात को समझते हैं। वहीं उन्होंने यह भी कहा कि स्कूल मां-बाप पर दवाब बनाते हैं कि किताबें उन्हीं की बताई दुकानों से खरीदी जाएं ताकि स्कूलों को भी लाभ मिल सके और यह सरासर जालसाजी है। कपूर ने कहा कि लाॅकडाउन में प्राइवेट काम करने वालों को वेतन नहीं मिल रहे हैं, दुकानदारों के काम बंद हैं तो फीस कहां से दें। सरकार को इस तरफ ध्यान देना चाहिये।
 
 


Monika Jamwal

Related News