सिर्फ गांधी परिवार ही कर सकता है कांग्रेस का नेतृत्व, कोई और बना तो शुरू हो जाएगी गुटबाजी: नवी

punjabkesari.in Saturday, Apr 23, 2022 - 04:17 PM (IST)

नेशनल डेस्क: कांग्रेस के वरिष्ठ नेता और बिहार के पूर्व मंत्री शमायले नवी ने पार्टी का नेतृत्व गांधी परिवार के ही हाथों में रहने देने का जोरदार समर्थन करते हुए कहा कि वे ही इस पार्टी को एकजुट रख सकते हैं। नवी ने शनिवार को चुनावी रणनीतिकार प्रशांत किशोर के कांग्रेस का नेतृत्व गांधी परिवार से बाहर किसी अन्य को देने के सुझाव पर प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए कहा कि यह पार्टी के हित में नहीं होगा।

उन्होंने कहा कि यदि गांधी परिवार के बाहर किसी को पार्टी अध्यक्ष बनाया गया तो इससे कांग्रेस में गुटबाजी शुरू हो जाएगी। सिर्फ गांधी परिवार ही पार्टी को मजबूत नेतृत्व प्रदान कर सकता है और कांग्रेस को एकजुट भी रख सकता है। कांग्रेस नेता ने कहा कि अस्सी के दशक में जब उन्होंने विमान दुर्घटना में संजय गांधी की मृत्यु के बाद राजीव गांधी के कांग्रेस में शामिल किए जाने की बात कही थी, शुरू में इसका राजनीतिक हलकों और कुछ नेताओं ने उपहास उड़ाया था। कुछ लोगों ने तो इसे चाटुकारिता तक कहा था।

नवी जो 18 साल तक कांग्रेस के प्रदेश महासचिव रहे और विभिन्न सरकारी- गैर सरकारी संगठनों का नेतृत्व भी किया ने जोर देते हुए कहा कि कांग्रेस को अपने भाग्य को पुनर्जीवित करने के लिए जनहित के मुद्दों को उठाना होगा और सड़कों पर संघर्ष करना होगा। उन्होंने कहा कि आम लोगों के महत्व के मुद्दों पर जेल भरो अभियान कांग्रेस को मजबूत करने में मदद करेगा। वर्ष 1980 में डॉ. जगन्नाथ मिश्रा मंत्रिमंडल में सूचना एवं जनसंपकर् मंत्री रहे नवी ने चुनावों में धांधली की आशंका को दूर करने के लिए मतपत्रों के जरिए मतदान कराने की वकालत करते हुए कहा कि यह चुनाव को प्रभावित करने के लिए ईवीएम के साथ छेड़छाड़ की सारी आशंकाओं को दूर करेगा ही और साथ ही लोगों का लोकतंत्र पर भरोसा भी मजबूत करेगा।


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Editor

rajesh kumar

Related News

Recommended News