पहले संक्रमित हो चुके लोगों में Omicron का खतरा ज्यादा, स्टडी में दावा

punjabkesari.in Saturday, Dec 04, 2021 - 07:16 AM (IST)

नई दिल्लीः कोरोना के नए वैरिएंट ओमिक्रोन से दुनिया सहमी हुई है। अब तक दो दर्जन से ज्यादा देशों में ओमिक्रोन के मामले पाए जा चुके हैं। भारत भी इससे अछूता नहीं है। इस बीच वैज्ञानिकों ने कहा है कि जिन लोगों को कोरोना हो चुका है, वो भी ओमिक्रोन वैरिएंट से संक्रमित हो सकते हैं।

दक्षिण अफ्रीका के वैज्ञानिकों ने चेतावनी दी है कि जिन लोगों को कोविड-19 हो चुका है उन्हें वायरस के नए वैरिएंट 'ओमिक्रोन' से संक्रमित होने की आशंका, किसी और वैरिएंट से संक्रमित होने की तुलना में ज्यादा है। वैज्ञानिकों का एक दल दक्षिण अफ्रीका में दोबारा संक्रमित होने के मामलों की स्टडी कर रहा है। उसने पता लगाया है कि ओमिक्रोन के आने के बाद फिर से संक्रमित होने के मामलों में इजाफा हुआ है। ऐसा पहले सामने आए वायरस के प्रकारों, जिसमें डेल्टा भी शामिल है, नहीं देखा गया।

अनुसंधान के नतीजों को गुरुवार को ऑनलाइन पब्लिश किया गया है। यह नतीजे शुरुआती हैं और अभी तक इनकी वैज्ञानिक समीक्षा नहीं की गई है। वैज्ञानिकों ने यह नहीं बताया है कि दोबारा संक्रमण के कितने मामले ओमिक्रोन के हैं।

यह भी नहीं कहा गया है कि ओमिक्रोन से संक्रमित हुए लोग गंभीर रूप से बीमार हुए या नहीं। रिसर्चर्स में से एक, विटवाटर्सरैंड विश्वविद्यालय की ऐन वोन गोटबर्ग ने गुरुवार को विश्व स्वास्थ्य संगठन की एक प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा, 'पहले हुए संक्रमण से डेल्टा प्रकार से सुरक्षा मिलती थी, लेकिन ओमिक्रोन के साथ ऐसा नहीं है।' स्टडी में टीकाकरण से मिली सुरक्षा के बारे में भी आंकड़े पेश नहीं किए गए हैं। वोन गोटबर्ग ने कहा, 'हम मानते हैं कि टीकाकरण से गंभीर रूप से बीमार होने से बचा जा सकता है।'


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Pardeep

Related News

Recommended News