जम्मू-कश्मीर की समावेशी भावना के विरोधियों के लिए आंख की किरकिरी है नेकां : अब्दुल्ला

punjabkesari.in Monday, Feb 21, 2022 - 07:31 PM (IST)

जम्मू : फारूक अब्दुल्ला ने कहा कि जम्मू-कश्मीर की समावेशी भावना के खिलाफ काम करने वाले तत्वों के लिए एक मजबूत नेशनल कांफ्रेंस (नेकां) आंख की किरकिरी है। नेशनल कॉन्फ्रेंस (नेकां) के अध्यक्ष अब्दुल्ला ने पार्टी कार्यकर्ताओं को प्रेरित करते हुए कहा कि उन्हें लोगों की सेवा करने और समावेशी भावना को बढ़ाने के लिए हमेशा तैयार रहना चाहिए।

 

पूर्व मुख्यमंत्री ने धर्मनिरपेक्ष लोकाचार के प्रति प्रतिबद्धता के लिए आम तौर पर जनता और विशेष रूप से पार्टी कार्यकर्ताओं की सराहना की। उन्होंने उम्मीद जताई कि यह गौरवशाली परंपरा आगामी पीढ़ियों को प्रेरित करती रहेगी।

 

जम्मू प्रांत के पीर पंजाल और चिनाब घाटी क्षेत्रों में पार्टी इकाइयों के कामकाज की समीक्षा के बाद अब्दुल्ला ने अपने विचार रखे। उन्होंने कहा, " नेशनल कॉन्फ्रेंस का एक बड़ी राजनीतिक ताकत के रूप में उभरना जम्मू-कश्मीर की मित्रता, भाईचारे, सद्भाव और समावेश की भावना का विरोध करने वाले तत्वों के लिए आंख की किरकिरी है।"

 

उन्होंने कहा कि जम्मू-कश्मीर के हर कोने में नेशनल कॉन्फ्रेंस को भारी समर्थन पार्टी में लोगों के गहरे विश्वास को दर्शाता है। नेकां अध्यक्ष ने अपने क्षेत्रों में व्यापक पहुंच के लिए पार्टी पदाधिकारियों की सराहना करते हुए कहा कि इससे जमीनी स्तर पर पार्टी और मजबूत होगी। उन्होंने कहा कि सत्ता शासन करने के लिए नहीं होती, बल्कि मानवता की सेवा के लिए है और यही हमारी पार्टी का राजनीतिक दर्शन है।


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Monika Jamwal

Related News

Recommended News