देश में वायु प्रदूषण की निगरानी के लिए 132 शहरों में निगरानी स्टेशन स्थापित किए गए: भूपेंद्र

punjabkesari.in Thursday, Dec 02, 2021 - 04:31 PM (IST)

नेशनल डेस्क: वन एवं पर्यावरण मंत्री भूपेंद्र यादव ने बृहस्पतिवार को कहा कि देश में वायु प्रदूषण के स्तर में कमी लाने के लिए कई कदम उठाए जा रहे हैं और 132 शहरों में निगरानी केंद्र बनाए गए हैं। यादव ने राज्यसभा में प्रश्नकाल के दौरान पूरक सवालों का जवाब देते हुए कहा कि सरकार ने वायु प्रदूषण की निगरानी के लिए देश के 132 शहरों में निगरानी स्टेशन स्थापित किए हैं। उन्होंने कहा कि वित्त आयोग ने राष्ट्रीय स्तर पर प्रदूषण में कमी लाने के उद्देश्य से स्थानीय उद्योग के लिए 4400 करोड़ रुपये निर्धारित किए हैं।

उन्होंने कहा कि दिल्ली में जहां काफी प्रदूषण है, वहां वाहनों में ईंधन की खपत को कम करने के लिए ‘ईस्टर्न एक्सप्रेस हाईवे' और ‘वेस्टर्न एक्सप्रेस हाईवे' का निर्माण किया गया है। इसके अलावा राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र दिल्ली में 10 साल से ज्यादा पुराने डीजल वाहनों पर भी प्रतिबंध लगा दिया गया है। यादव ने कहा कि ​​औद्योगिक प्रदूषण से निपटने के लिए सरकार कोयला आधारित बिजली संयंत्रों के लिए कड़े मानदंड लागू कर रही है और एनसीआर (राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र) के आसपास की औद्योगिक इकाइयों, खासकर ईंट भट्ठा उद्योग में प्रौद्योगिकी का उन्नयन किया जा रहा है।

उन्होंने कहा कि सरकार ने देश भर में विभिन्न स्रोतों से होने वाले वायु प्रदूषण पर नियंत्रण के लिए कई कदम उठाए हैं जिनमें अप्रैल, 2020 से ईंधन और वाहनों के लिए ‘बीएस-4' से सीधे ‘बीएस-6' मानक अपनाना, परिवहन के लिए मेट्रो रेल के नेटवर्क में वृद्धि, दिल्ली एनसीआर में 2000 सीसी और उससे अधिक की इंजन क्षमता वाले डीजल चालित वाहनों पर पर्यावरण सुरक्षा प्रभार (ईपीसी) लागू किया जाना शामिल हैं। उन्होंने कहा कि इलेक्ट्रिक वाहनों के लिए परमिट आवश्यकता पर छूट दी गयी है और सड़क पर भीड़-भाड़ को कम करने के लिए सार्वजनिक परिवहन को बढ़ावा देने तथा सड़कों में सुधार लाने व ज्यादा पुलों का निर्माण पर जोर दिया गया है।

 


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Editor

Hitesh

Related News

Recommended News