See More

जिला प्रशासन के आदेश को दिखाया ठेंगा, पुरमंडल में हुआ शव का अंतिम संस्कार और अस्थि विसर्जन

2020-07-31T19:21:37.937

साम्बा : जिला प्रशासन के आदेश को ठेंगा दिखाते हुए पुरमंडल में शव का अंतिम संस्कार किया गया।  इतना ही नहीं, पुरमंडल में बाहरी लोगों के प्रवेश पर प्रतिबंध के बावजूद कुछेक लोग जहां गुप्त गंगा में अस्थि विसर्जन भी करने पहुंचे। सनद रहे कि कोरोना संकट के चलते जिला प्रशासन ने गत सप्ताह 24 जुलाई को एक आदेश जारी कर संभाग के प्रमुख तीर्थस्थान पुरमंडल और उत्तरबाहिनी में बाहरी लोगों के प्रवेश प्रतिबंधित कर दिया था। जिला प्रशासन द्वारा जारी आदेश में साफ कहा गया था कि पुरमंडल और उत्तरबाहिनी में कोरोना संक्रमण के मामले सामने आने संक्रमण के अधिक फैलाव को रोकने के लिए उद्देश्य से बाहरी लोगों की इन इलाकों में एंट्री पर सख्त रोक लगा दी गई है।

 

जिला मेजिस्ट्रेट ने कहा था कि  राज्य आपदा प्रबंधन विभाग के अध्यक्ष द्वारा जारी दिशा-निर्देशों के दृष्टिगत तीर्थस्थानों पर धार्मिक गतिविधियों पर पूरी तरह प्रतिबंधित हैं लेकिन देखने में आया है कि प्रतिबंध के बावजूद कुछ लोग अपने संबंधियों के दाहसंस्कार, अस्थि विसर्जन आदि के लिए पुरमंडल-उत्तरबाहिनी पहुंच रहे हैं, जो पूरी तरह से सरकारी निर्देश का उल्लंघन है। वहीं लॉकडाउन में जम्मू जिले से आए कुछ लोगों ने प्रतिबंध के बावजूद पुरमंडल में मंदिर के सामने खुले में शव का दाहसंस्कार किया और सरकारी आदेश की धज्जियाँ उड़ाई। स्थानीय लोगों ने भी इस पर एतराज जताया और दाहसंस्कार की वीडियोग्राफी भी की। बताया गया है कि इस दौरान कुछ पुलिस कर्मी भी मौजूद रहे लेकिन किसी ने दाह संस्कार करने वालों को नहीं रोका। इस संबंध में प्रतिक्रिया के लिए उपायुक्त से संपर्क किया गया लेकिन उन्होंने उत्तर नहीं दिया। लेकिन जिला एसएसपी शक्ति पाठक ने कहा कि वह मामले की जानकारी ले रहे हैं। 
 


Monika Jamwal

Related News