झारखंड का झरिया शहर सबसे प्रदूषित, दिल्ली में प्रदूषण में मामूली कमी: रिपोर्ट

2020-01-21T23:54:25.63

नई दिल्लीः झारखंड का झरिया देश का सबसे प्रदूषित शहर बना हुआ है, वहीं दिल्ली ने हवा में प्रदूषण के स्तर को कम करने में मामूली सुधार किया है। यह जानकारी मंगलवार को ग्रीनपीस इंडिया द्वारा जारी रिपोर्ट में दी गई। इस वर्ष की रिपोर्ट के अनुसार दिल्ली भारत का दसवां सबसे प्रदूषित शहर है। एक साल पहले राजधानी इस मामले में आठवें स्थान पर थी। झरिया देश के सबसे बड़े कोयला स्रोतों में से एक है।
PunjabKesari
रिपोर्ट के अनुसार झरिया में पीएम 10 पार्टिकुलेट मैटर का औसत सालाना स्तर 2018 में 322 माइक्रोग्राम प्रति घन मीटर था जो 0-60 की सुरक्षित सीमा से छह गुना से अधिक है। रिपोर्ट के मुताबिक, झारखंड राज्य का ही धनबाद, भारत का दूसरा सबसे अधिक प्रदूषित शहर है, जिसे उसके कोयला भंडार और उद्योगों के लिए जाना जाता है। देश भर के 287 शहरों से पीएम 10 डेटा के विश्लेषण के आधार पर यह रिपोर्ट तैयार की गई है।
PunjabKesari
2017 में दिल्ली में पीएम 10 का औसत वार्षिक स्तर 240 माइक्रोग्राम प्रति घन मीटर था जो 2018 में कम होकर 225 के स्तर पर आ गया। रिपोर्ट के अनुसार, मिजोरम का लुंगलेई सबसे कम प्रदूषित शहर है और इसके बाद मेघालय का डौकी शहर है। शीर्ष 10 प्रदूषित शहरों में से छह उत्तर प्रदेश के हैं जिनमें नोएडा, गाजियाबाद, बरेली, इलाहाबाद, मुरादाबाद और फिरोजाबाद हैं।

 


Pardeep

Related News